एक्यूरेट इंस्टिट्यूट में शिक्षक दिवस का आयोजन.

46

नॉलेज पार्क ३ स्थित एक्यूरेट इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट एंड टेक्नोलॉजी के छात्रों ने ५ सितम्बर को शिक्षक दिवस का आयोजन किया । इस अवसर पर पी जी डी एम् कोर्स के छात्रों ने अपने शिक्षकों के प्रति अपना आभार प्रकट किया और दिन के शुभारम्भ में अपने गुरुजनों का आशीर्वाद लिया ।  भारत के भूतपूर्व राष्ट्रपति एक महान विभूति शिक्षाविद्, दार्शनिक, महानवक्ता एवं आस्थावान विचारक डॉ. सर्वपल्लवी राधाकृष्णन जी ने शिक्षा के क्षेत्र में अमूल्य योगदान दिया है। और उन्ही के जन्मदिन को हम शिक्षक दिवस के रूप में मनाते हैं।

डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी का मानना था कि व्यक्ति निर्माण एवं चरित्र निर्माण में शिक्षा का विशेष योगदान है। वैश्विक शान्ति, वैश्विक समृद्धि एवं वैश्विक सौहार्द में शिक्षा का महत्व अतिविशेष है।  उन्हें भारत के प्रथम राष्ट्रपति डॉ. राजेन्द्र प्रसाद ने भारत रत्न से सम्मानित किया।

छात्रों ने शिक्षा से सम्बंधित उपहार एवं बधाई संदेशों से अपने शिक्षकों का अभिवादन किया और उनसे कुछ न कुछ कला प्रदर्शित करने का आह्वाहन किया । छात्रों के असीम प्रेम के कारण शिक्षकों ने अपने आशीर्वाद से परिपूर्ण कवितायेँ , गीत एवं शेर और शायरी प्रस्तुत किये और उन्हें अपने जीवन में बढ़ने की प्रेरणा दी ।

संस्थान के डायरेक्टर डॉ. संजीव चतुर्वेदी ने छात्रों को सम्बोधित किया और उन्हें अपने विचारों से प्रेरित किया , उन्होंने सभी को शिक्षा के महत्त्व के बारे में बताया और उनसे अधिक से अधिक सीखने का आग्रह किया । इस अवसर पर डायरेक्टर डॉ. संजीव चतुर्वेदी ने छात्रों को विभिन्न प्रतियोगिताएं में विजयी छात्रों को पुरस्कार एवं प्रमाणपत्र वितरित किये   ।

संस्थान के पी जी डी एम् विभाग प्रमुख श्री प्रदीप वर्मा ने अपनी कविताओं से छात्रों को ओतप्रोत किया और कार्यक्रम के आयोजन के लिए आभार प्रकट किया। एक अन्य प्रोफेसर श्री हरीश कुमार ने छात्रों से  शिक्षा के लिए निरंतर प्रयासरत रहने का अनुग्रह किया और अपने गायन से भाव – विभोर किया  । संस्थान की समूह निदेशिका सुश्री पूनम शर्मा ने अपने सभी शिक्षकों को बधाइयाँ दी और इनके योगदान की भरपूर सराहना की, उन्होंने बताया की शिक्षकों के कारण ही संस्थान प्रगति के पथ पर अग्रसर रहा है  ।

You might also like More from author