दिल्ली के स्कूल में मासूम बच्ची के साथ हुआ दुष्कर्म , आरोपी गिरफ्तार

78

दिल्ली :(10/02/2019) देश की राजधानी दिल्ली में कानून व्यवस्था होने के बावजूद भी महिलाएं व् बच्ची सुरक्षित नहीं है और महिलाओ व् बच्ची के साथ रेप की घटनाओ में आए दिन कम होने की बजाए और इजाफा हो रहा है , इसके बावजूद पुलिस प्रशासन मूक दर्शक बना बैठा हैं।



ऐसा ही एक मामला दिल्ली के शाहदरा इलाके का समाने आया है , जहा एक 10 वर्षीय बच्ची के साथ शर्मनाक घटना को अंजाम दिया गया | दरअसल दिल्ली के नगर निगम प्राथमिक स्कूल में दस साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है। आपको बता दे की यहां कार्यरत एक सफाई कर्मचारी ने बच्ची को डरा-धमकाकर कक्षा के पीछे एक खाली कमरे में वारदात को अंजाम दिया। आरोपित ने पीड़िता को जान से मारने की धमकी दी। घटना के बाद उसकी तबीयत खराब रहने लगी , पीड़िता ने खाना-पीना छोड़ दिया।

जब कुछ दिन बाद परिजन जब पीड़िता को लेकर डॉक्टर के पास पहुंचे तो वारदात का पता चला। शनिवार को परिजनों ने पुलिस को शिकायत दी। पुलिस ने दुष्कर्म और पॉक्सो एक्ट की धाराओं में मामला दर्ज कर आरोपित श्योराज (38) निवासी मंडावली को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस उससे पूछताछ कर मामले की जांच कर रही है।

पुलिस जानकारी के अनुसार पीड़िता के माता-पिता उत्तर प्रदेश के जिला बस्ती में रहते हैं। करीब एक साल से बच्ची शाहदरा में मौसा-मौसी के साथ रह रही है। यहां आने पर मौसा ने उसका दाखिला निगम के स्कूल में चौथी कक्षा में करवा दियाथा । वही स्कूल में आरोपित श्योराज अस्थायी सफाई कर्मचारी है।

मंगलवार को बच्ची स्कूल गई थी ,छुट्टी होने पर वह मौसी के आने का इंतजार करने लगी। इस दौरान आरोपित बहला-फुसलाकर उसे खाली कमरे में ले गया। वहां उसने गला दबाकर बच्ची के साथ दुष्कर्म किया। उसने धमकी दी कि अगर यह बात अपने घर में बताई तो वह जान से मार देगा , यह सुनकर बच्ची डर गई। वही घर पहुंचकर उसने किसी को कुछ नहीं बताया , अगले दिन बुधवार को उसने कुछ नहीं खाया, न ही स्कूल गई। मौसी ने पूछा तो चुप रही ,अगले दिन बच्ची को बुखार हो गया , जिसको लेकर शनिवार को मौसा बच्ची को लेकर एक डॉक्टर के पास पहुंचे।

यहां बच्ची ने बताया कि पेट के निचले हिस्से में दर्द हो रहा है। डॉक्टर को मासूम की हालत देखकर कुछ शक हुआ तो उन्होंने मौसी की मौजूदगी में मासूम से पूछताछ की। बच्ची ने डरते-डरते सारी बात बताई। फौरन परिजनों ने मामले की सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने मासूम का मेडिकल कराया, इसमें दुष्कर्म की पुष्टि हुई। इसके बाद पुलिस ने श्योराज को गिरफ्तार कर लिया गया। बाद में पीड़िता का बयान कड़कड़डूमा कोर्ट में मजिस्ट्रेट के समक्ष दर्ज करवाया गया। उधर, मामले की जानकारी होने पर निगम अधिकारियों ने भी जांच बैठा दी है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.