आम आदमी पार्टी प्रवक्ता आशुतोष ने अमित शाह के बेटे की कंपनियों पर उठाए सवाल

0 51

Lokesh Goswami New Delhi :आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता आशुतोष ने भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय अमितभाई शाह की कंपनी टेम्पल इन्टरप्राइजेज प्राइवेट लिमिटेड का टर्नओवर कथित तौर पर 16 हजार गुना बढ़ने परआम आदमी पार्टी ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया है|

कि सन 2015- 2016 में केंद्र के अंदर भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनी थी । बीजेपी में प्रधानमंत्री नरेंद्र भाई मोदी के बाद सबसे पावरफुल आदमी हैं वह अमित शाह हैं। तो इस सवाल का जवाब देश को मिलना चाहिए यह कौन सा चमत्कार हुआ उनके बेटे की कम्पनी की 16 हजार गुना मुनाफा हुआ।हैरानी की दूसरी बात यह है राजेश खंडेलबाला इस कम्पनी को 15.75 करोड़ रुपए लोन दिए टेम्पल इंटरप्राइजेज जानी जय अमित शाह की कंपनी को उस साल यह कुल रेवेन्यू शो करते हैं 7 करोड़ रुपए आरोप लगाते हुए कहा कि आप के खजाने में 7 करोड रुपए हैं आपने दूसरे को 15.75 करोड़ रुपए उधार कहां से दे दिए।जब फाइनेंसियल रिपोर्ट बनी थी उस बात में इसका जिक्र नहीं होता कहीं ना कहीं कुछ गड़बड़ है।आपके पास 7 ही करोड रुपए है तो अपने 15 करोड रुपए कैसे दे दिएआम आदमी पार्टी की तरफ से पहला सवाल यह है क्या यह कंपनी फर्जी है दूसरा सवाल 51 करोड रुपए जो आए हैं कहीं ऐसा तो नहीं मनी लॉन्ड्रिंग का मामला हो क्योंकि मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में इस तरह की कंपनियां बनाई जाती हैं जिन कंपनियों का कोई अता पता ही नहीं होता इसके बाद कुछ दिन ड्रान्डेक्शन होता है बाद में कंपनी बंद हो जाती हैं
पार्टी की मांगी है इस कंपनी के खातों की जांच होनी चाहिए और अमित शाह के बेटे के खिलाफ FIR दर्ज होनी चाहिए इसकी जांच होनी चाहिए और साथ ही साथ अमित शाह से भी इस बारे में पूछताछ की जानी चाहिए कहीं ऐसा तो नहीं किसी राजनीतिक दबाव के कारण इस कंपनी को फायदा पहुंचाने की कोशिश की गई है। पिछले दिनों इस तरीके की जांच बहुत सारे नेताओं और उनके परिवार वालों से जुड़े हुए लोगों और उनके खातों की जांच हुई है कुछ पर इनकम टैक्स के छापे भी पड़े हैं। कुछ लोगों को जेल भी जाना भी पड़ा है। अगर उस तरह के तरीके का मामला है तो इस मामले की भी जांच होनी चाहिए इस बात का खुलासा होना चाहिए कहीं ना कहीं बीजेपी की सरकार बनने के बाद मोदी जी और अमित शाह जी के पार्टी अध्यक्ष बनने के बाद उनके बेटे की कंपनी जिन कंपनी में पार्टनर है उस कंपनी में उन को फायदा पहुंचाने की कोशिश की जा रही है ऐसा हमारा आरोप है और मांग भी इस पूरे मामले की गंभीरता के साथ जांच होनी चाहिए जो लोग इसके जिम्मेदार हैं उनके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई हो जरूरत पड़े तो उनकी गिरफ्तारी भी की जाए

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.