दिल्ली बाल सुधार गृह में हुआ नशा मुक्ति कार्यशाला का आयोजन

Rohit Sharma (Photo/Video) By Lokesh Goswami Ten News Delhi :

75

बाल अपराध आज जिस तरह से बढ़ती हुई समस्या बनकर सामने आयी है , उसमें छोटे बच्चों में बढ़ती नशे की लत एक बड़ा कारण है। वही इन बच्चों को नशे से दूर करने के लिए अगर प्रयास नही किये गए तो हालत और ख़राब होने की संभावना भी है। आंकड़ो की बात करे तो 50 प्रतिशत बच्चे नशे का शिकार होने की वजह से अपराध की घटनाओं को आजम देते है। वही इस मामले को ध्यान में रखते हुए आज दिल्ली के बाल सुधार गृह में अणुव्रत समिति दिल्ली की ओर से खास जुविनाइल केस में सजा काट रहे बच्चों के लिए एक नशा मुक्त अभियान की शुरुआत की गयी जिसमे मनोचिकित्सक अरविंद शर्मा ने बच्चों को बताया कि किस तरह वो इस दलदल से बाहर निकल सकते है। साथ ही दिल्ली के प्रयास बाल सुधार गृह में बच्चों को नशे से बचने के लिए एक गोष्ठी का आयोजन भी किया गया |

वही मनोचिकित्सक अरविंद शर्मा ने बताया की आज के समय में छोटे बच्चों को नशे की लत लग जाती है , अगर वो धीरे – धीरे नशे का आदि बन जाता है | साथ ही वो बच्चा अपराध करने लग जाता है | वही इस गोष्ठी की आयोजक डॉ कुसुम लुनिया का कहना है कि अणुव्रत समिति के द्धारा नशा मुक्त करने को लेकर अभी तक 100 से ज्यादा जागरूक अभियान चलाया गया है , जिसमे बच्चों को नशे से कितनी भयानक बीमारी होती है , उसके बारे में समझाया जाता है , फ़िलहाल इस अभियान से काफी बच्चों में सुधार आया है | साथ ही उनका कहना है की आगे भी दिल्ली एनसीआर के जितने भी बाल सुधार गृह है , उनमे ये जागरूक अभियान चलाया जाएगा |

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.