आईटीएस इंजीनियरिंग कॉलेज में हुआ राष्ट्रीय युवा दिवस पर निबन्ध प्रतियोगिता का आयोजन

Abhishek Sharma

87
Greater Noida (12/01/19) : भारत में युवा दिवस मनाने की शुरूआत साल 1985 से शुरू हुई थी, वही इस दिन को युवा दिवस के तौर पर मनाने का ऐलान किया गया था। युवा दिवस मनाने के लिए सरकार द्वारा स्वामी विवेकानंद के जन्मदिवस को चुना गया था और तब से अब तक 12 जनवरी के दिन को युवा दिवस के रूप में मनाते आ रहे है। इसी उपलक्ष में ग्रेटर नोएडा स्थित आई0टी0एस0 इन्जीनियरिंग काॅलेज में निबन्ध प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य व्यक्ता प्रो. कुलदीप मलिक ने स्वामी विवेकानंद के जीवन पर प्रकाश डालते हुए बताया कि वह अपने विचारों और अपने आदर्शो के लिए पुरी दुनिया में जाने जाते थे। उन्होने बहुत ही कम उम्र के अंदर ही दुनिया में अपने विचारों के चलते अपनी एक अलग ही पहचान बनाई थी। उनके विचारों से युवाओं को सही दिशा मिल सके, इस मकसद से ही उनके जन्म दिवस को इस दिवस के लिए चुना गया था।
अधिषाशी निदेशक डॉ. विकास सिंह ने छात्रों को सम्बोधित करते हुए कहा कि हर युवा के पास ताकत होती है कि वो अपने आने वाले कल को अच्छा बना सके, युवाओं द्वारा जो मेहनत या पढाई की जाती वह भविष्य में जाकर उसे फल देती है।
कार्यकम में स्वामी विवेकानंद के जीवन पर निबंध प्रतियोगिता का आयोजन किया गया जिसमें सभी विभागों के 50 से अधिक छात्रों ने भाग लिया। प्रतियोगिता मे प्रथम पुरस्कार विधुसी द्वितीय पुरस्कार देव व तृतीय पुरस्कार कृति को दिया गया।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.