यमुना अथॉरिटी के भूतपूर्व सीईओ पीसी गुप्ता के खिलाफ एफआईआर दर्ज, जमीन अधिग्रहण में घोटालों का आरोप!

171
यमुना प्राधिकरण के भूतपूर्व मुख्य कार्यपालक अधिकारी पीसी गुप्ता पर भ्रस्टाचार के मामले में एफआईआर दर्ज कर दी गई है। भूतपूर्व सीईओ के साथ ही सुरेश शर्मा और सतीश नामक अफसरों के खिलाफ भी संलिप्तता के आरोप में एफआईआर दर्ज की गई है।  बताया जा रहा है इसमें अभी कई नाम और जुड़ सकते हैं।
इनके ऊपर आरोप हैं की बिना शासन की मंजूरी के बड़ी संख्या में गैरजरूरी जमीन का अधिग्रहण किया था। इस अनधिकृत अधिग्रहण के दौरान इन अधिकारीयों के रिश्तेदारों द्वारा पहले से जमीन चिन्हित कर किसानों से खरीद ली गई थी और फिर चार गुना मुआवज़े पर अथॉरिटी द्वारा अधिग्रहण कर लिया गया था।
अनुमान के मुताबिक इस भ्रस्टाचार में करीब 1 हज़ार करोड़ का सरकार को नुकसान होने की आशंका बताई जा रही है। मेरठ कमिश्नर डॉ प्रभात कुमार के निर्देश पर कासना थाने में एफआईआर दर्ज की गई है। मुख्य आरोपी पीसी गुप्ता पीसीएस से आईएसएस पद पर प्रोन्नत हुए थे।
टेन न्यूज़ द्वारा पीसी गुप्ता से संपर्क की कोशिश की गई परन्तु उनका फ़ोन स्विच ऑफ अथवा संपर्क क्षेत्र से बाहर पाया गया।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.