जी.एल. बजाज संस्थान में शुरु हुई दुनिया की सबसे बड़ी दो दिवसीय सेल्सफोर्स कॉन्फ्रेंस

Abhishek Sharma / Talib Khan

112

ग्रेटर नोएडा के नॉलेज पार्क स्थित जीएल बजाज कॉलेज में अभी तक की सबसे बड़ी इंडियन सेल्स फ़ोर्स कम्युनिटि सम्मेलन की शुरुआत आज जी.एल. बजाज संस्थान में हुई। इस सम्मेलन की शुरुआत में 60 अंतराष्ट्रीय वक्ताओ ने करीब 2500 डेवलोपर, सेल्सफाॅर्स युजर,
स्टूडेन्टस तथा अपने अन्य प्रतिभागियों को सम्बोधित किया। संस्थान के वाईस चेयरमेन पंकज अग्रवाल ने दीप प्रज्वलन के बाद उपस्थित जन समूह का स्वागत किया।

उन्होंने अपने स्वागत भाषण में बोलते हुए कहा कि उन्हें ख़ुशी है कि आज दुनिया की सबसे बडी सेल्सफोर्स कॉन्फ्रेंस का आयोजन जी.एल. बजाज संस्थान परिसर में हो रहा है। यह सम्मेलन न सिर्फ सेल्सफोर्स डेवलोपर्स लिंक अपितु पार्टनर्स, कस्टमर्स, एडमिनस और छात्रों के लिए समान रुप से उपयोगी है क्योंकि इस सम्मेलन में अमेरिका, जापान, बिट्रोन, तुरकिन, श्रीलंका आदि से एक्सपर्ट वक्ताओं ने अपनी उपस्थिति दर्ज करवायी है।

सेल्सफोर्स एक अमेरिकन कम्पनी है। जिसका करीब 60 बिलियन डॉलर का बाजार है, तथा करीब 20 हजार लोग इस कम्पनी में काम करते है। सेल्सफोर्स कम्पनी के साथ-साथ एक क्लाउड आधारित प्लेटफार्म भी है। जिसके जरिये दुनियाभर के सेल्सफोर्स डेवेलपर्स नई-नई सेल्सफोर्स तकनीको के बारे में सीखते है।

टाॅनी प्राफिट-चीफ इक्वलिटी आॅफिसर-सेल्सफोर्स ने अपने कीनोट में बताया कि सेल्सफोर्स अपने आप में एक उभरता हुआ कस्टमर रिलेशन मैनेजमेन्ट का प्लेटफार्म है जो विभिन्न उद्यमों में सुव्यवस्थित करने हेतु कम्प्युटर समाधान उपलब्ध करवाता है। अगर
विश्व पटल पर देखा जाए तो यह बाजार में हिस्सेदारी रखता है। वही अगर रोजगार की दृष्टि से देखा जाए तो यह क्षेत्र तकनीकी तथा गैरतकनीकी दोनों ही क्षेत्रों के लिए असीम संभावनाएं रखता है।

उन्होंने कहा कि ओहाना जो कि एक हवाई भाषा का शब्द है, वह सेल्सफोर्स में बहुत महत्व रखता है। क्योंकि इसका अर्थ है परिवार तथा परिवार से जुडी परम्पराये और इसी पर आधारित है सेल्सफोर्स में सीखने और सिखाने की परंपराएं।

 

यह एक मुफ्त लर्निग प्लेटफार्म है जहाँ इच्छुक अभियार्थी खुद इन्टरनेट के जरिये पढकर, सेल्फअसेसमेंट टेस्ट देकर सेल्सफोर्स के करीब 300 लेवल या बैचेज, जिन्हे टेल, हेड कहा जाता है। हाॅली फायरस्टोन-डायरेक्टर, कम्युनिटी सेल्सफोर्स ने बताया कि अगर अभियार्थी चाहे तो वह सेल्सफोर्स को एम.वी.पीस के जरिये भी सीख सकता है। एम.वी.पी. यानि मोस्टवेल्युवल पर्सन। यह वो लोग है जो सेल्सफोर्स एक्सपर्ट है तथा दूसरे लोगों को भी सेल्सफोर्स तकनीके सिखाते है। इसलिये यह एक समुदाय के द्वारा, समुदाय के लिए किया जाने वाला सम्मेलन है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.