ग्रेटर नोएडा के पार्कों की टूटी दीवार, लंबी घांसे और नंगे तारों से सेक्टर निवासियों में भारी रोष

117

Saurabh Kumar

ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी के अधिकारीयों के दावों तो सेक्टरों को लेकर बहुत किए पर सेक्टरों की जमीनी हकीकत कुछ और ही कहानी बयां कर रही है। सेक्टर बीटा 1 में खस्ता हाल पड़े पार्क , खुले में पड़े बिजली के नंगे तार, कचरों से जाम पड़े सीवर और मैन होल प्राधिकरण द्वरा बरती जा रही लापरवाही की पराकाष्ठा बया कर रहे है।

 

खुले में पड़े बिजली के नंगे तार हर वक्त किसी अप्रिय घटना को आमंत्रित कर रहे है।  बरसात के आगमन के कारण कई बार बिजली के खम्भों में करंट भी आ जाता है जो की आसपास खेल रहे बच्चो के लिए घातक सभीत हो सकता है। आलोक नागर  महासचिव आरडब्ल्यूए बीटा-1 ने बताया की पूर्व में भी ऐसी कई घटना हो चुकी है जिसमे करंट लगने से 2 गायों की मौत हो गयी थी। एक वर्ष पूर्व ऐसी ही एक घटना में एक सिक्योरिटी गार्ड को भी अपनी जान गवानी पड़ी थी।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

पार्को की चारदीवारी भी टूट चुकी है जिस कारण से आवारा पशु पार्को में घूमते रहते है और पड़े पौधों की जगह जंगली घासों ने ले ली है।

कमोबेष सेक्टर अल्फा 1और अल्फा 2 की भी यही स्थिति है । बरसात का मौसम दस्तक दे चूका है पर सेक्टर की नालियों की सफाई अभी तक नहीं हुई है जिस कारण से जरा सी बारिश के उपरांत जल भराव की समस्या उत्पन हो जाती है। जल भराव की समस्या के कारण ही फिर डेंगू जैसी गंभीर बीमारियां सामने आने लगती हैं।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.