नमकीन की दुनिया में “प्रभात नमकीन” एन सी आर दिल्ली को देगा अनोखा स्वाद : लक्ष्मण कुशवाह संचालक आर डि प्रॉडक्ट्स ग्रेटर नॉएडा

892
जब कुछ कर गुजरने का जज्बा हो तो भला मंजिल पाने से कौन रोक सकता है? ऐसे ही एक महारथी हैं  ग्रेटर नोइड के, जिनकी आंखों में एक सपना बसा था. सपना कुछ ऐसा करने का, जिससे लोगों को रोजगार मिले और साथ देश-दुनिया में अपना नाम हो. इन्होने  छोटी सी दुकान से अपना सफर शुरू किया और वक़्त के साथ आगे बढ़ते हुए अपनी फैक्ट्री समेत एक प्रसिद्ध ब्रांड भी स्थापित  कर लिया है . आज ये ब्रांड न सिर्फ इनका नाम चमका रहे है, बल्कि देश के विभिन्न हिस्सों में ग्रेटर नॉएडा  का नाम भी रोशन कर रहे हैं.
 
हम बात कर रहे हैं आर डी प्रोडक्ट्स ग्रेटर नॉएडा के संस्थापक और प्रभात नमकीन ब्रांड के जनक लक्ष्मण कुशवाह की।  उनका मानना है की  हौंसलों के साथ आगे बढ़ कर हमेशा कोशिश करते रहें और जोखिम लेते रहें क्योंकि जिंदगी में जोखिम न लेना ही सबसे बड़ा जोखिम है।
 
आइए देखते हैं उनके साथ टेन न्यूज़ की हुई ख़ास बातचीत के कुछ अंश :
 
अपने करियर के शुरुआत में आप नौकरीपेशा थे फिर अचानक अपना खुद का बिज़नेस करने का विचार कैसे आया ?
जब मैंने कॉमर्स से पढाई करी थी तब से ही कहीं ना कहीं बिज़नेस करने की इच्छा मन में थी। हालांकि शुरुआती समय में मेरे हमारे पास इसके लिए जमापूँजी ना होने के कारण मैंने नौकरी का रुख किया। कुछ समय बाद जब मैंने व्यापार में कदम रखने की सोची तब किसी फास्ट मूविंग बिज़नेस की तालाश थी तो नमकीन बनाने का बिज़नेस समझ आया तो यहीं से शुरुआत कर दी। 
 

 
आपने इस नमकीन के क्षेत्र में ही आने का कईं सोचा ?
नमकीन का क्षेत्र व्यापार के लिए इस लिए चुना क्यूंकि ये रोजमर्रा खपत की चीज है। बुनियादी तौर पर मुझे ऐसे प्रोडक्ट की तालाश थी जिसकी क्वालिटी अच्छी होने पर बिक्री भी अच्छी रहे इसलिए मैंने इस प्रोडक्ट रेंज का रुख किया। 
 
आपकी शुरआत कहाँ से हुई और अब तक का सफर कैसा रहा ?
मैंने नॉएडा के सेक्टर 12 – 22 में दो कारीगरों के साथ किराये के मकान में शुरुआत की।  उस दौरान मार्केटिंग, सेल्स, उत्पादन से जुड़े सभी महत्वपूर्ण काम मैं स्वयं देखता था। हमारे प्रोडक्ट को लोगों ने सराहा तो हमे आगे बढ़ने का हौसला मिला।  उसके बाद हमने सेक्टर 53 में एक छोटी सी जगह लेकर खुद की शुरआत की। वहां सेटअप बनाने के बाद सफर थोड़ा आसान और बेहतर रहा।
इस क्षेत्र में आप सबसे बड़ा चैलेंज किसको मानते है ?
मार्किट में कॉम्पीटीशन बेहद समृद्ध है। हम अपनी गुणवत्ता के कारण बहुत से कम्पटीशन को बीट करके आगे बढ़ते रहे।  इसमें परिवार का खासकर धर्मपत्नी का बेहद सहयोग रहा।
आप अपने प्रोडक्ट की यूएसपी किसे मानते हैं ?
अधिकांशतः कंपनियों के सामान एक चेन के तहत मार्किट में आते हैं परन्तु हम ताजा माल सीधे दुकानदार को उपलब्ध कराते हैं जिससे उन्हें ये सामान पसंद आता है। इस गुडवत्ता को और ग्राहकों तक सीधी पहुँच को ही मैं प्रभात नमकीन की यूएसपी मानता हूँ !
अभी कितने तरह के प्रोडक्ट बनाए जाते हैं और इसमें सबसे ज्यादा प्रोडक्ट कौन सा चलता हैं ?
हमारे द्वारा करीब 50-60 प्रोडक्ट्स रोज बनाए जाते हैं और उनमे से 20-22 प्रोडक्ट ग्राहकों द्वारा बेहद ज्यादा पसंद किये जाते है। इनमे साउथ इंडियन मिक्सचर, पलाइन भुजिया, बूंदी इत्यादि महत्वपर्ण हैं।
अभी आर बी प्रोडक्ट्स द्वारा करीब उत्पादन किया जा रहा है इसे कितने लोग को रोजगार मिलता है ?
देढ़ से दो टन उत्पादन विभिन्न उत्पादों का हमारे द्वारा रोज किया जाता है और इससे करीब 40-45 लोगों को रोजगार दिया जाता है। हम इस छमता को और बढ़ाने के लिए अग्रसर हैं।
भविष्य में ब्रांड को और बढ़ाने के लिए किस तरह की योजनाएँ हैं?
हमारे उत्पाद कई बड़े स्टोर्स जैसे मार्क एन्ड स्पेंसर्स, आदित्य बिरला ग्रुप, कैश एन्ड कैर्री इत्यादि में मौजूद हैं और लोगों द्वारा खासे पसंद किये जा रहे हैं।  हम और भी कई बड़े स्टोर्स में बात कर रहे हैं और कोशिश होगी की ज्यादा से ज्यादा बड़े स्टोर्स में प्रभात नमकीन के उत्कृष्ट उत्पादों को सेल्स हेतु उपलब्ध कराया जाए।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.