नोएडा प्राधिकरण की नई पहल, डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन शुरू, सीईओ आलोक टंडन ने हरी झंडी दिखाकर सीएनजी वाहन किए रवाना

Talib Khan / Rohit Sharma

48

NOIDA, (23/1/2019): नोएडा प्राधिकरण के द्वारा एक नई पहल शुरू होनी जा रही है । करीब तीन माह पहले नोएडा प्राधिकरण की ओर से चिह्नित की गई डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन एजेंसी आज से शहर में काम करना शुरू कर देगी।

वही नोएडा में डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन के लिए सीएनजी वाहन को नोएडा प्राधिकरण के सीईओ आलोक टंडन ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

आपको बता दे कि उद्घाटन का कार्यक्रम नोएडा के सेक्टर 6 में स्थित इंदिरा गांधी कला केंद्र में किया गया । उद्घाटन के साथ ही सेक्टरों से कचरा एकत्रित करने का काम आज से शुरू कर दिया जाएगा।


नोएडा प्राधिकरण द्वारा चयनित एजेंसी नोएडा के सेक्टर 14 , 49 , 50 , 51 , 52 और 137 में गीला-सूखा कचरा कूड़ा घरों से उठाएगी। पहले 20 दिन ट्रायल के तौर पर एक इलाके में काम किया जाएगा। सफल रहने पर फरवरी से पूरे शहर में इसे लागू कर दिया जाएगा।

दरअसल ठोस कचरा प्रबंधन नियम 2016 के अनुसार पर्यावरण संरक्षण की प्राथमिकता के कारण सेग्रिगेटेड कूड़े का कलेक्शन और उसका निस्तारण अनिवार्य कर दिया गया है। इसमें डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन से लेकर निस्तारण तक की जिम्मेदारी संबंधित निगम व प्राधिकरण की होगी और घरों से सेग्रिगेटेड कूड़ा देना लोगों की जिम्मेदारी होगी। तकनीकी रूप से कूड़े का निस्तारण प्राधिकरण ने शुरू कर दिया है।

वही दूसरी तरफ प्राधिकरण ने कूड़ा कलेक्शन के लिए कुछ माह पहले ईजी इनवाइरो एजेंसी के साथ 10 साल तक का करार किया है। कूड़ा उठाने के लिए आवासीय सेक्टरों के हर घर से 30 रुपये तक का चार्ज रखा गया है , जबकि व्यवसायिक सेक्टरों में 5 हज़ार रुपये प्रति माह वसूले जाएंगे।

खासबात यह है की अभी घरों में एक डस्टबिन में कूडा डाला जाता है जिसमें गीला, सूखा और बायोमेडिकल वेस्ट सब एक साथ होता है। अब लोगों को अपने घरों में दो डस्टबिन रखनी होंगी, जिसमें गीला और सूखा वेस्ट अलग-अलग डाला जाएगा। कौन सा कूड़ा कौन सी डस्टबिन में डालना है यह एजेंसी लोगों को बताएगी और जागरूक भी करेगी |

 

निवासियों को बदलनी होगी आदत

एजेंसी के एग्जीक्युटिव राजेश कुरुप का कहना है कि सेगरिगेटेड कूड़ा देना कोई मुश्किल काम नहीं है लेकिन इसके लिए हम सबको अपनी आदत बदलनी होगी। हम पहले दिन से बिना सेगरिगेटेड कूड़ा लेंगे ही नहीं, शुरुआत में लोगों को इसकी आदत पड़ सके, इसका समय दिया जाएगा |

वही इस मामले में नोएडा प्राधिकरण के सीईओ आलोक टंडन का कहना है की नोएडा प्राधिकरण द्वारा चयनित एजेंसी नोएडा के सेक्टर 14 , 49 , 50 , 51 , 52 और 137 में गीला-सूखा कचरा कूड़ा घरों से उठाएगी। पहले 20 दिन ट्रायल के तौर पर एक इलाके में काम किया जाएगा। सफल रहने पर फरवरी से पूरे शहर में इसे लागू कर दिया जाएगा।

साथ ही उनका कहना है आज से नोएडा के सेक्टर 14 , 49 , 50 , 51 , 52 और 137 में गीला-सूखा कचरा कूड़ा घरों से उठाने के लिए 30 सीएनजी वाहन लगाए गए है , आने वाले समय में कूड़ा उठाने वाले वाहनों की संख्या 200 कर दी जाएगी | वही कार्य को लेकर नोएडा प्राधिकरण आने वाले समय में एक साल का 30 करोड़ रूपये की वहन करेगी |

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.