नोएडा में कल्पना कला केंद्र संस्था ने मनाया वार्षिकोत्सव , 150 बच्चों ने लिया हिस्सा

Baidyanath Halder / Rahul Kumar Jha

209

Noida (21/01/2019) : नोएडा के कल्पना कला केंद्र संस्था ने सेक्टर 62 स्थित एवीएर एजुकेशन हव में वार्षिकोत्सव मनाया गया । वही इस कार्यक्रम में नोएडा के गणमान्य लोग समेत सैकड़ो अभिभावक उपस्थित रहे ।

आपको बता दे कि इस कार्यक्रम में दर्शकों को नींबू मिर्ची क्यों लगानी चाहिए , रात में नाखून क्यों नही काटने चाहिए , बिल्ली का रास्ता काटने पर क्यों रुक जाते है आदि बातों से लोगों को जागरूक करने का कार्य किया गया । 

खासबात यह है कि इस कार्यक्रम से लगभग 150 बच्चे और युवाओं समेत महिलाओं ने अंधविश्वास को रोकने के लिए वैज्ञानिक तथ्य देते हुए नृत्य और सुंदर भारतीय शास्त्रीय एवम लोक नृत्य द्वारा दर्शाया गया । वही नृत्य संगीत ड्रामा सब का निर्देशन खुद इस संस्था की निदेशक डॉ कल्पना भूषण ने बखूबी निभाया । वही इस कार्यक्रम में नवरत्न फॉउंडेशन्स के अध्यक्ष अशोक श्रीवास्तव ने मंच का संचालन करके , लोगों को तालियां बजाने पर मजबूर कर दिया।

वही इस कार्यक्रम की एडिटिंग और म्यूजिक वीडियो का कार्य समीर भाटिया के नेतृत्व में किया गया । साथ ही ये कार्यक्रम को देखने पहुँचे गणमान्य लोगों और सैकड़ों अभिभावकों ने जमकर तारीफ भी की । वही इस कार्यक्रम में 5 महिलाओं को सशक्त नारी के अवार्ड से नवाजा गया ।

जिनका नाम डॉ उवर्शी मक्कर ( महा निदेशिका जी एल बजाज इंस्टिट्यूट ) , शेरोन इंटरनेशनल स्कूल की प्रधानचार्य डॉ सुषमा मलिक , लोकमत न्यूज़ की वरिष्ठ पत्रकार प्रतीक्षा कुकरेती , कॉर्नर स्टोन स्कूल की प्रधानाचार्य सीमा वेदांतम और सरिता चौहान समेत समाजसेविक एवम मशहूर वकील रंजन तोमर थे , जिन्हें अवार्ड से नवाजा गया । 

वही दूसरी तरफ इस कार्यक्रम में टेन न्यूज़ के संस्थापक गजानन माली विशेष अतिथि के रूप में रहे । साथ ही इस कार्यक्रम में विशेष अथिति द्वारा सामाजिक लोगों को सम्मानित करवाया गया ।

कल्पना कला केंद्र की निदेशिका डॉ कल्पना भूषण का कहना है कि हर साल कल्पना कला केंद्र वार्षिक उत्सव मनाया जाता है । वही हर साल इस कार्यक्रम में अलग अलग थीम रखी जाती है , जो दर्शकों के मन मे बैठ सके ।

साथ ही इस कार्यक्रम में बहुत अलग हटकर थीम रखी गई , जिन्होंने आज तक सोचा नही था । इस कार्यक्रम में 150 बच्चों और युवाओं समेत महिलाओं ने सहभागिता की है । वही उन्होंने बताया कि बच्चों को नृत्य की शिक्षा 1977 से प्रदान करते आ रहे है । आज के समय मे कल्पना कला केंद्र के सभी शिष्य अपनी कला के माध्यम से बड़े स्तर पर पहुँच गए है , जिसको लेकर बहुत अच्छा लगता है की कल्पना कला केंद्र का नाम देश और विदेश में रोशन होता जा रहा है ।

वही इस कार्यक्रम में सौरभ अस्थाना , पवन राज सिंह , अशोक श्रीवास्तव , डॉ सुब्रमण्यम आदि गणमान्य लोग उपस्थित रहे ।

Photo Highlights of Superstitions – by Kcalpana Kala Kendra

Video Highlights of Superstitions Social Drama by Kcalpana Kala Kendra

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.