नॉएडा : एटीएम में कैश डालने के दौरान कर्मचारियों ने किया करोड़ों का हेरफेर, जांच में उलझी पुलिस

100

नोएडा : जल्दी आमिर बनने की चाहत में इंसान कैसे कैसे रास्ते अपनाता है , ऐसी ही एक घटना नॉएडा शहर में घटी। जहाँ पर एटीएम में कैश लोडिंग करने वाली कम्पनी के कर्मचारियों ने ही घपलेबाजी शुरू कर दी , साथ ही इस घपलेबाजी में आरोपियों ने करोडो के वारेनारे कर दिए । खासबात यह है कि कम्पनी मॅनेजमेंट के साथ साथ बैंक तक को भी कोई भनक नहीं लगी , ये सिलसला काफी महीने तक चलता रहा। जब घपलेबाजी का पता चला तो कम्पनी मेनेजमेंट के होश उड़ गए।

नोएडा के थाने 24 में कैश लोडिंग करने वाले घपलेबाजों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया गया। जहा कर्मचारियों पर एक करोड़ 36 लाख का गबन करने का आरोप लगाया। पुलिस ने मामले की गंभीरता को लेते हुए तुरंत कारवाई करते हुए दो अभियुक्तों नॉएडा से गिरफ्तार किया और साथ ही उनसे 19 लाख 75 हजार रुपये बरामद भी किए , हलाकि एक अभियुक्त की तलाश जारी है। आपको बता दें कि सेक्टर-11 की एक लॉजिकेश सेल्यूशन प्राइवेट एजेंसी है जो एनसीआर में अलग अलग बैंकों की एटीएम मशीन में कैश डालने का काम करती है। इसी कम्पनी में गिरफ्तार अभियुक्त राजन भारद्वाज , शंकर झा काम करते थे ,इन दो को एटीएम मशीन के बारे में पूरी जानकारी थी , कैसे पैसे लोडिंग करते है और कैसे निकालते है। ये रोजाना करोडो का कैश लोडिंग करते थे। बस यही से इनके मन में लालच आ गया । एटीएम मशीन को जम्पिंग / डी कोड कर साजिश कर रोजाना 2 से 3 लाख रुपये गायब करने लगे। जल्दी ही इनका भांडा फुट गया

वही पुलिस का मानना है कैश एजेंसियों में हर दिन के कलेक्शन और मशीनों में भरने वाले पैसों का हर मिनट पर ब्योरा लिया जाता है, लेकिन इस मामले में 1 करोड़ से ज्यादा के गबन के बारे में कंपनी को कुछ पता नहीं चला ऐसे में पुलिस मामले के हर पहलू पर जांच कर रही है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.