नोएडा के सेक्टर 123 में बनेगा “वेस्ट टू एनर्जी प्लांट”- सच्चाई जानने के लिए पूरी ख़बर पढ़े

ROHIT SHARMA / ASHISH KEDIA

239

नोएडा के सेक्टर 123 में बनाए जा रहे वेस्ट टू एनर्जी प्लांट को लेकर बढ़ते हुए विरोध को देखते हुए प्राधिकरण द्वारा निवासियों को समझाने के लिए एक सर्कुलर जारी किया गया , जिसमे इस परियोजना के बारे में विस्तार से बताया गया है|

इस मामले में प्राधिकरण के सीईओ अलोक टंडन ने स्पष्ट किया है की सेक्टर 123 में कोई डंपिंग ग्राउंड नहीं बन रहा है , बल्कि यह एसएलएफ (सेनेटरी लैंड फिल साइट है जिसमे वेस्ट टू एनर्जी प्लांट भी लगाया जाना प्रस्तावित है | उनका कहना है की यह स्थल एसएलएफ के रूप में नोएडा के मास्टर प्लान – 2021 में वर्ष 2008 से नियोजित है, जिसे नोएडा के मास्टर प्लान – 2031 में वर्ष 2011 में पुनः अनुमोदित किया गया है | दोनों मास्टर प्लान “जन सुनवाई के उपरांत उत्तर प्रदेश शासन द्धारा पूर्व से ही अनुमोदित है |

साथ ही इस मामले में उन्होंने बताया की सेक्टर 123 में कही भी कूड़ाघर नहीं बनाया जाएगा , बल्कि कूड़े को वैज्ञानिक पद्द्ति से निस्तारित किया जायेगा |

वही दूसरी तरफ इस मामले में कुछ लोगों का मानना है की ये डंपिंग यार्ड दिल्ली के गाज़ीपुर की तरह बनेगा , जिसको लेकर प्राधिकरण के सीईओ अलोक टंडन का कहना है की कुछ लोगों ने शंका जाहिर की है यहां अपशिष्ट से गाजीपुर जैसा पहाड़ बनेगा , लेकिन उन सभी को स्पष्ट किया गया है कि यहां पर अपशिष्ट के पहाड़ जैसी स्थिति नहीं बनेगी , अपितु दैनिक स्तर पर अपशिष्ट का वैज्ञानिक पद्धति से निपटान किया जाएगा , साथ ही अपशिष्ट की ऊंचाई ग्राउंड धरातल से अधिक नहीं होगी और ना ही इसमें किसी भी प्रकार की दुर्गंध अथवा गैस उत्पन्न होने की संभावना है | संपूर्ण परिधीय क्षेत्र को पर्यावरणीय असुविधा से मुक्त रखे जाते हुए निरंतर स्ट्रिक्ट एनवायर्नमेंटल मॉनिटरिंग की जाती रहेगी | वही इस प्लांट के चारों तरफ पेड़ पौधे लगाए जाएंगे , जिससे पर्यावरण बना रहे |

खासबात ये है की नोएडा के सेक्टर 123 में बनाए जा रहे वेस्ट टू एनर्जी प्लांट को लेकर राजनैतिक पार्टिया के नेताओं ने कूड़ा घर के नाम पर लोगों को काफी ज्यादा भर्मित कर दिया है , जिसके कारण नोएडा प्राधिकरण द्धारा ये सर्कुलर जारी किया गया | साथ ही नोएडा प्राधिकरण के अधिकारीयों ने नोएडा के निवासियों से अपील की है की नोएडा के सेक्टर 123 में बनाए जा रहे वेस्ट टू एनर्जी प्लांट विरोध न करे , जिससे नोएडा की होने वाली प्रमुख समस्या कूड़ा का निस्तारण हो सके |

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.