जीवा आयुर्वेद के डायरेक्टर डॉ प्रताप चौहान ने बताया कि भारत में प्रत्येक 6 व्यक्ति मे से एक व्यक्ति जोड़ों के दर्द से पीड़ित

Lokesh Goswami Ten News

48

जीवा आयुर्वेद के डायरेक्टर डॉ प्रताप चौहान ने बताया कि भारत में प्रत्येक 6 व्यक्ति मे से एक व्यक्ति जोड़ों के दर्द से पीड़ित है। जिसमें 58% महिलाये पीड़ित है ।हमारा उद्देश्य है कि लोग आयुर्वेद को अपनाए और सही तरीके से इस्तेमाल करे जिससे उनका स्वस्थ ठीक रहे।


डॉ प्रताप चौहान ने बताया कि इस परेशानी से पीड़ित रोगियों की औसत आयु कम होती जा रही है। और रोग बढ़ते जा रहे हैं। आर्थराइटिस गाउट स्पांडिलाइटिस व् जोड़ो से सम्बंधित लाखो केस सामने आये है।
डॉ प्रताप चौहान ने प्रेस वार्ता के दौरान बताया कि 20 से 25 वर्ष के युवाओ में ये बीमारी काफी बढ़ रही है। आयुर्वेद इस परेशानी को ठीक करने के साथ-साथ सूजन कम करने में विशेष उपयोगी है वह जीवन में गुणवत्ता सुधार लाता है।

अर्थराइटिस गाउट स्पॉन्डिलाइटिस व जोड़ों से संबंधित लाखों केस सामने आते हैं। हमारी मुख्य प्रथमिकता मरीज को उपचार औषधि व खानपान तथा जीवन शैली में सुधार आ सके। जीवा आयुर्वेद अब तक हजारों लोगों का ईलाज कर चुका है. डॉ चौहान ने बताया कि पिछले कई सालों में जीवा आयुर्वेद में अर्थराइटिस के 167461 रोगों से परामर्श किया है। जिसमें से 27% रोगियों को पूरा आराम मिल गया जबकि 27% रोगियों ने अपनी हालत में अत्यधिक सुधार के बारे में बताया यह बीमारी सबसे ज्यादा 40 से 75 वर्ष की आयु के लोगो में पाई जाती है। डॉ प्रताप चौहान ने साथ ही बताया कि जीवा आयुर्वेद में आधुनिक उपचार में औषधियां आहार व्यायाम और जीवन शैली से संबंधित परामर्श सम्मिलित हैं जिन्होंने बताएं कि यह आयुर्वेद की शक्ति है जिसमें अस्थाई लाक्षणिक आराम के बजाय प्रत्येक रोगी की रोक के मूल कारण पर आधारित विशेष काम किया जाता है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.