गणेश उत्सव को लेकर गणराज महाराष्ट्र मित्र मंडल के अध्यक्ष से टेन न्यूज़ ने की खास बातचीत

205

Saurabh Kumar / Baidyanath Halder

 

ग्रेटर नॉएडा में गणराज महाराष्ट्र मित्र मंडल द्वारा हर वर्ष की भाँति इस वर्ष भी बड़े ही धूम धाम से गणेश उत्सव का आयोजन करने जा रही है । हर वर्ष की तरह भगवान गणेश की प्रतिमा ग्रेटर नॉएडा के सम्राट मिहिर भोज पार्क में स्थापित की जाएगी । साथ ही ग्रेटर नोएडा में गणेश उत्सव पर 10 दिनों तक विभिन्न कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा।

जिसको लेकर टेन न्यूज़ ने गणराज महाराष्ट्र मित्र मंडल ट्रस्ट के ट्रस्टी चंद्र्शेखर गार्गे से गणेश उत्सव के पीछे का इतिहास , ग्रेटर नॉएडा में इसकी शुरुवात और इस बार की तैयारियों को लेकर खास बातचीत की।

गणेश उत्सव के पीछे का इतिहास और उसकी शुरुआत को लेकर चंद्र्शेखर गार्गे ने बताया की “आज़ादी से पहले लोग अंग्रेज़ो के डर से लोग अपने घरों से निकलने में कतराते और घरों में उत्सव मानते थे।

वही 1893 में इसी डर को दूर करते हुए बाल गंगाधर तिलक ने लोगों से बहार निकलकर और भय मुकत होकर उत्सव माना ने के लिए प्रेरित किया ।

उसी समय से गणेश उत्सव का आयोजन सार्वजानिक तौर पर किया जाता है। ग्रेटर नॉएडा में इसका आयोजन पिछले 15 वर्षो से हो रहा है , साथ ही बड़े स्तर पर पिछले 13 वर्षो से ग्रेटर नोएडा के सम्राट मिहिर भोज पार्क में होता है।

वही दूसरी तरफ तैयारियों और कार्यक्रमों को लेकर उन्होंने बताया की लगभग सभी तैयारियां पूरी की जा चुकी है। इस वर्ष पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए हमने इको फ्रेंडली गणेश उत्सव मानने का फैसला किया है।

जिसको लेकर हम मुंबई से गणेश की इको फ्रेंडली मूर्ति मंगवा रहे है , जोकि पूरी तरह से मिट्टी की होगी। साथ ही सजावट तथा पंडाल के निर्माण में भी पर्यावरण का खास ख्याल रखा जायेगा।

ग्रेटर नोएडा में गणेश उत्सव की शरुआत 13 सितम्बर से होगी और 23 तारिक को इसका समापन होगा। इस दौरान मेले से लेके तमाम तरह के आयोजन किए जाएंगे और हर दिन कुछ नया होगा।

वही इस कार्यक्रम में बच्चो के लिए विशेष कर विभिन्न प्रतियोगिताएँ जैसे की नृत्य , संगीत और रंगोली इत्यादि होगी। इसके अलावा बहार से भी कलाकार आकर अपनी प्रस्तुति देंगे , जिसमे की महाराष्ट्र का लावणी नृत्य , कवि सम्मेलन , आर्केस्ट्रा इत्यादि आयोजन होंगे। 23 तारिक को शोभा यात्रा निकल कर गंग नहर में मूर्ति विसर्जन किया जायेगा।

15 साल में आए बदलाव और स्थानिए लोगो के सहयोग से जुड़े सवाल के उतर में चंद्र्शेखर गार्गे ने बतया की “15 साल पहले इस उत्सव की शुरुआत छोटे से आयोजन के रूप में हुई थी पर लोगों को आयोजन काफी पसंद आया और देखते- देखते ही कार्यक्रम लोगो में बहुत ही लोकप्रिय हो गया।

साथ ही उनका कहना है कि गणेश उत्सव को लेकर ग्रेटर नोएडा के निवासियो से आर्थिक व कार्य को पूरा करने के लिए भी भरपूर सहयोग मिलता रहा है । जिसके कारण हर साल कार्यक्रम भव्य होता रहा है ।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.