आसानी से ऑनलाइन बुक होते हैं नॉएडा के रेजिडेंशियल घरों में चल रहे होटल- गेस्टहाउस, सिर्फ कार्यवाही करने वाले ही अनजान

ROHIT SHARMA / ASHISH KEDIA

109

(10/04/18) नॉएडा  :—

नोएडा में रेसिडेंसियल इलाकों में भी कमर्शियल काम बहुत बड़े पैमाने पर चल रहे हैं। जिसको लेकर प्राधिकरण द्धारा कई दफा कई माकन मालिकों को नोटिस भी भेजे गए पर नतीजें खाना पूर्ति तक सीमित रह गए हैं।

आज तक बड़ी मात्रा में संचालित हो रहे इन पीजी, गेस्ट हाउस और होटलों के खिलाफ कोई बड़ी कार्यवाही नहीं की गई | आपको बता दे की नोएडा के अंदर कई रेसिडेंसियल घरों में बिना उपयुक्त लाइसेंस के गेस्ट हाउस तक खुले हुए है।

देश विदेश के पर्यटक ऑनलाइन तौर पर कहीं से भी बैठे इन होटलों को ऑनलाइन ढून्ढ कर बुक कर लेते हैं पर जिले के चप्पे-चप्पे के सर्वे- सर्वा जिला प्रसाशन और प्राधिकरण को ये नजर नहीं आते |

खासबात ये है की प्राधिकरण ने पहले भी इस मामले को लेकर निवासियों को सख्त आदेश दिए थे की आप अपनों घरों में कोई भी गेस्ट हाउस और कमर्शियल काम नहीं कर सकते है , साथ ही इस मामले की शिकायत पाई गई तो उसका आवंटन रद कर दिया जाएगा, पर ये बातें – बातों तक सिमट कर रह गई |

नॉएडा में कई घरों में ओयो नाम से गेस्ट हाउस चल रहे है , लेकिन इनके खिलाफ आज तक कोई बड़ी कार्यवाही नोएडा प्राधिकरण द्धारा नहीं की गई | एक आसान ऑनलाइन सर्च पर नाम पते के साथ उपलब्ध ये व्यवसाइक केंद्र प्राधिकरण और प्रसाशन को वैसे ही नजर नहीं आ रहे जैसे महीनों तक विभिन्न मालों में लगी नियमों की धज्जियाँ उड़ाती होर्डिंग्स। इन गेस्ट हाउस का कारोबार बड़े पैमाने पर बेधड़क चल रहा है , जिससे नोएडा प्राधिकरण के अधिकारीयों के खिलाफ सवालिया निशान खड़े हो जाते है ?

अब देखने वाली बात होगी क्या इन गेस्ट हॉउस के खिलाफ कोई बड़ी कार्यवाही करके घरों का आवंटन रद्द करेगा |

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.