गुरूद्वारा कमेटी ने करवाया अन्तराष्ट्रीय गुरमति समागम

0 214

गुरूद्वारा बंगला साहिब में खालसा प्रचारक जत्थे यू. के. के सहयोग से श्री गुरू ग्रंथ साहिब जी के गुरतागददी दिवस को समर्पित तीन दिवसीय अन्तरराष्ट्रीय गुरमति प्रचार सम्मेलन दिल्ली सिख गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी द्वारा मौजूदा समय में कौम में पैदा हुई दुविधा को दूर करने के लिए समागम करवाया गया। इस समागम में श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी गुरबचन सिंह, तख्त श्री पटना साहिब के जत्थेदार ज्ञानी इकबाल सिंह, तख्त श्री केसगड़ साहिब के जत्थेदार ज्ञानी मल सिंह, श्री दरबार साहिब के मुख्य ग्रंथी ज्ञानी जगतार सिंह, ग्रंथी ज्ञानी मान सिंह, प्रसिद्ध कथावाचक, सिख विद्धान, अलग-अलग संप्रदायों/टकसाल/कारसेवा वाले महापुरूषों ने हाजरी भर के कौम को साहिब श्री गुरू ग्रंथ साहिब की षिक्षाओं पर चलने की अपील की। अमरीका, कैनेडा, आस्ट्रीया, ईटली, पौलेंड़ एवं कुवैत की संगतो ने भी इस समागम में विषेष तौर पर हाजरी भरी।
दिल्ली कमेटी के अध्यक्ष मनजीत सिंह जी.के. ने जत्थे के प्रमुख ज्ञानी गुरबख्ष सिंह गुलषन को सम्मानित करते हुए दावा किया कि कमेटी के सहयोग से पहली बार सारे संसार के सिखो के बीच दूरीया मिटाने के मक्सद से यह कार्यक्रम आयोजित किया गया हैै एवं संसार भर में लोगो को अपनी पहचान से परिचित करवाने के लिए प्रयास कर रहे सिख भाईचारे को इस समागम के द्वारा एक दुसरे के निकट आने का मौका मिला है।
ज्ञानी गुलषन ने इस अवसर पर सारे सिखो को अपने तौर पर प्रचारक बन कर कौम की दषा और दिषा सुधारने के यत्न करने का संदेष दिया। पंथ प्रसिद्ध रागी जत्थे भाई मनप्रीत सिंह कानपुरी, भाई तजिन्दर सिंह खन्ने वाले, कथावाचक सरबजीत सिंह गोबिंदपुरी, ज्ञानी गुलजार सिंह कैनेडा, ज्ञानी सुरिन्दर सिंह, ज्ञानी गुरदीप सिंह कैनेडा, षिरोमणी कमेटी सदस्य बीबी किरणजोत कौर, पंजाबी विष्वविद्यियालय के उपकुलपति जसपाल सिंह एव अन्य पंथक विद्धानो ने इस मौके हाजरी भरके सिख समस्याओं को गुरमतिनुसार हल करवाने के लिए समस्त सिखो को एकजुट होने के लिए प्रेरित किया।
गुरूद्वारा कमेटी के धर्म प्रचार मुखी परमजीत सिंह राणा, गुरूद्वारा कमेटी सदस्य कुलमोहन सिंह, इन्द्रजीत सिंह मौन्टी, गुरविन्दर पाल सिंह, हरदेव सिंह धनोआ, परमजीत सिंह चंढोक एवं जत्थेदार दर्षन सिंह ने इस समागम को यादगारी बनाने के लिए अपना पुर्ण सहयोग दिया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.