चुनाव को लेकर जिलाधिकारी ने लगाई फटकार

92

ग्रेटर नोएडा। कलेक्ट्रेट सभागार में निर्वाचन को लेकर शनिवार को हुई बैठक में डिस्ट्रिक्ट इलेक्शन मजिस्ट्रेट ए.वी. राजामौली को विभागीय अफसरों द्वारा ड्यूटी के लिए कर्मचारियों की लिस्ट न उपलब्ध कराने पर डीएम ने जमकर फटकार लगाई। उन्होंने यथा शीघ्र लिस्ट उपलब्ध न कराने वाले अफसरों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दे दिये।
आगामी 10 अप्रैल को जनपद में होने वाले लोकसभा चुनाव के मतदान में महीने भर का समय शेष रह गया है। मगर अभी तक इलेक्शन संबंधित तैयारियां सुस्त चाल से चल रही हैं। शनिवार को डिस्ट्रिक्ट इलेक्शन मजिस्ट्रेट ए.़वी. राजामौली ने चुनाव में लगे प्रभारी और सहायक प्रभारी अफसरों के साथ मीटिंग की। कलेक्ट्रेट में आयोजित मीटिंग में डीएम ने सबसे पहले निर्वाचन की ड्यूटी में लगने वाले कर्मचारियों का स्टेटस जाना। पता चला कि कई डिपार्टमेंट से कर्मचारियों की लिस्ट नहीं भेजी गई है। लिस्ट न मिलने से ड्यूटी लगाने की कार्रवाई जोर नहीं पकड़ी है। यह जानते ही डीएम अपने फार्म में आ गए। डीएम ने मीटिंग में उपस्थित सभी विभागीय अफसरों की जमकर खैर ली। डीएम ने कहा कि पिछले छह महीने से चुनाव की तैयारियां चल रही हैं। विभागीय कर्मचारियों व अधिकारियों की लिस्ट मांगे भी महीने भर हो गए। मगर अभी तक लिस्ट न उपलब्ध कराना, चुनाव के प्रति उदासीनता दिखाता है। डीएम ने कहा कि जिन विभागों से लिस्ट नहीं आई है, वह यथा शीघ्र लिस्ट उपलब्ध कराएं। यदि उनके द्वारा लिस्ट नहीं उपलब्ध कराई जाती है, तो थाने में एफआईआर दर्ज कराई जाए। डीएम ए.वी. राजामौली ने चुनाव में लगे प्रभारियों व सहायक प्रभारियों को सख्त लहजे में चेतावनी दी कि चुनाव में अब वक्त नहीं है, लिहाजा अब किसी भी तक की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। अफसरों को जो जिम्मेदारियां सौंपी गई हैं, उन्हें समय के साथ पूरा करेंगे। किसी तरह की चूक संबंधित अफसर के लिए भारी पड़ सकता है। उन्होंने साफ किया है कि जनपद में चुनाव शांतिपूर्वक और निर्बाध संपन्न कराने को लेकर कोई कसर नहीं छोड़ी जाए।

Comments are closed.