प्रज्ञान स्कूल में धूम धाम से वार्षिक उत्सव

0 1,927

प्रज्ञान स्कूल में  धूम धाम से वार्षिक उत्सव प्रज्ञान स्कूल में धूम धाम से वार्षिक उत्सव [/caption
ग्रेटर नोएडा स्थित प्रज्ञान स्कूल में 9 नवम्बर 2013 को धूम धाम से वार्षिक उत्सव

कार्यक्रम मनाया गया। कार्यक्रम का शुभ आरंभ दीप प्रज्जवलन से हुआ। कार्यक्रम के मुख्य

अतिथि के रूप में पंजाब एवं हरियाणा राज्य के उच्च न्यायालय के न्यायाधीश श्रीमान मुकुल

मुद्गल उपस्थित थे। इस वर्ष कार्यक्रम का आधार फ्लाइट ऑफ फैंटासी अर्थात श् स्वप्न की

उड़ान श् पर आधारित है । वार्षिक उत्सव के सम्पूर्ण कार्यक्रम स्वप्न की उड़ान से संबन्धित है।

सांस्कृतिक कार्यक्रम का प्रारम्भ मधुरमय राग ध्वनि श्उद्भव तरंगिणीश् के साथ हुआ जिसमें

भिन्न.भिन्न वाद्ययंत्रों द्वारा छात्रों ने मधुर ध्वनि से आए हुए अतिथि एवं अभिभावकों का

मनोरंजन किया। तदुपरान्त सरस्वती वंदना द्वारा विद्यालय के छात्रों ने विद्यादायिनी माँ

सरस्वती के विविध रूपों का वर्णन संगीत के द्वारा किया। इसी क्रम में विशाख दत्त रचित

एतिहासिक नाटक श्मुद्राराक्षसश् से संबन्धित श्स्वर्णिम स्वप्नश् नाटक का मंचन विद्यालय के

छात्रों ने किया। नाटक के माध्यम से चाणक्य की असाधारण बुद्धि कौशल एवं चाणक्य व

सिंकन्दर के वीरता का वर्णन अभिनयकला के मधायम से दर्शाया गया है। इसी क्रम में हिन्दी

साहित्य के महाकवि मैथिली शरण गुप्त द्वारा रचित कविता पर अधारित श्चारु चंद की चंचल

किरणे ण्ण्ण्ण्श् इन पंक्ति से संबन्धित श्अविरल अनंतश् कविता का मधुर मय वाचन विद्यालय के

छात्रों ने किया। इसी क्रम में विद्यालय की प्राचार्या. श्रीमती रुचिका शर्मा ने सम्पूर्ण सत्र में

विभिन्न क्षेत्रों में विद्यालय के आसधारण उपलब्धियों एवं प्रतिष्ठाओं का विश्लेषण किया।

तदुपरान्त राजस्थान के प्रसिद्ध लोक नृत्य श्कलबेलियाश् के मनमोहक ध्वनि पर विद्यालय के

छात्रों ने आकर्षक एवं मनमोहक नृत्य प्रस्तुत किया जिसे देख कर आए हुए अभिभावक गण

झूमने को मजबूर हो गए। तदुपरान्त पुरस्कार वितरण समारोह में विभिन्न विषयों एवं विभिन्न

विधाओ में उच्चतम अंक प्राप्त करने वाले छात्रों को भेट स्वरूप पुस्तके एवं प्रस्तिपत्र दिया

गया। इस क्रम में विद्यालय के वार्षिक पत्रिका श्उड़ानश् का विमोचन मुख्य अतिथि श्रीमान

मुकुल मुदगल एवं विद्यालय के प्रबन्धक श्रीमान राम महोदयए मार्गदर्शक एस॰पी॰ बक्शीए

विद्यालय की कार्यकरिणी श्रीमती कुसुम चाँद एवं प्रधानाचर्या श्रीमती रुचिका शर्मा आदि गण

मान्य सदस्यों के समक्ष किया गया। श्रीमान मुदगल ने उपस्थित छात्र एवं अभिभावकों को

सतत प्रयास करने एवं कठिन परिश्रम करने का संदेश दिया। इसी क्रम मे श्एलिस इन द

वंडरलैंडश् पर आधारित श्अ रेवेयरश् नाटक का भव्य मंचन विद्यालय के छात्रों ने किया। नाटक

द्वारा एलिस के विभिन्न अवस्थाओ का वर्णन अभिनय के द्वारा किया गया। इस रंगारंग

कार्यक्रम का सुखद अंत राष्ट्रगाण के साथ हुआ। अंत में विद्यालय की प्राचार्या श्रीमती

रुचिका शर्मा ने आए हुए अभिभावक गण एवं मुख्य अतिथि का अभिवादन व्यक्त किया एवं

छात्रों के अभिनय कौशल की प्रशंशा किया द्य

Leave A Reply

Your email address will not be published.