लिस्ट से नाम काटे जाने पर भड़के मतदाता

118

ग्रेटर नोएडा। जेवर विधानसभा क्षेत्र में स्थित एक पोलिंग बूथ से एक साथ 455 वोटर्स के नाम काट दिए गए हैं। सेक्टर की आडब्ल्यूए द्वारा एसडीएम सदर से कई बार शिकायत की गई है। बावजूद इसके कोई कार्रवाई नहीं हो सकी है। आरडब्ल्यूए ने जिला निर्वाचन अधिकारी से शिकायत कर दोषी अफसरों पर कार्रवाई की मांग की है।जेवर विधानसभा क्षेत्र में पी-थ्री सेक्टर स्थित है। पिछले 8 वर्षों से इस सेक्टर का पोलिंग बूथ केन्द्रीय विद्यालय को बनाया जाता रहा है। इस पोलिंग बूथ पर वोटर्स की संख्या 1200 है। पी-थ्री आरडब्ल्यूए अध्यक्ष डी.पी. सिंह का कहना है कि 1 जनवरी 2014 को निर्वाचन विभाग द्वारा वोटर लिस्ट को पब्लिक किया था। जब सेक्टर के निवासियों द्वारा लिस्ट देखी गई, तो उसमें से 455 वोटर के नाम काट दिए गए थे। जबकि यह वोटर पिछले कई वर्षों से लोकसभा और विधानसभा चुनाव में वोटिंग कर रहे थे। उन्होंने बताया कि जिन वोटर के नाम काटे गए हैं, उनके द्वारा कई बार फार्म-6 भर कर बीएलओ को दिया गया। इसके अलावा 18 अक्टूबर 2013, 17 नवम्बर 2013 और 18 नवम्बर 2013 को एसडीएम सदर और एडीएम प्रशासन से मौखिक और ई-मेल के जरिए शिकायत की जा चुकी है। इसके बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की गई है। अफसरों द्वारा सिर्फ आश्वासन ही दिया गया है। उनका कहना है कि एक तरफ चुनाव आयोग वोटिंग परसेंटेज बढ़ाने को लेकर तमाम कोशिशें कर रहा है, तो दूसरी तरफ अफसरों की लापरवाही के चलते रियल वोटर वोटिंग करने से वंचित हो रहे हैं। जिसके परिणाम स्वरूप पी-थ्री सेक्टर के 455 वोटर अब लोकसभा चुनाव में वोटिंग नहीं कर सकेंगे। उन्होंने डीएम से शिकायत कर दोष अफसरों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। डीएम ने मामले की जांच एडीएम को करने का निर्देश दिया है।

Comments are closed.