यूपी : मुरादाबाद मे पुलिस-डाॅक्टर की टीम पर पथराव करने वाले 17 लोग गिरफ्तार, 7 महिलाएं शामिल

Abhishek Sharma

0 288

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जिले के नागफनी थाना क्षेत्र में बीते बुधवार को कोरोना संदिग्धों को लेने पहुंची पुलिस और स्वास्थ्य विभाग की टीम पर हुई पत्थरबाजी के मामले में बड़ी कार्रवाई हुई है।

बुधवार देर रात मुरादाबाद जिले की नागफनी थाना पुलिस ने 17 लोगों गिरफ्तार करने के साथ ही करीब 200 अज्ञात लोगों के खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया। गिरफ्तार किए गए लोगों में 7 महिलाएं और 10 पुरुष आरोपी शामिल हैं।

वहीं इस मामले में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पहले ही एनएसए के तहत कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि कोरोना के खिलाफ इस लड़ाई में लोगों को एकजुट होना चाहिए। लेकिन इसके विपरीत डॉक्टर एवं पुलिसकर्मियों की टीम पर पथराव किया जा रहा है। इस तरह की बर्बरता बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। ऐसे लोगों के खिलाफ जो सख्त से सख्त कार्रवाई हो वह सुनिश्चित की जाए।

मुरादाबाद सिटी एसपी अमित कुमार आनंद ने बताया कि फरार दंगाइयों की तलाश की जा रही है और जल्द ही सभी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

उन्होंने बताया कि फिलहाल पकड़े गए सभी 17 आरोपियों और 200 अज्ञात के खिलाफ पुलिस ने आईपीसी की धाराओं 147, 148, 149, 188, 269, 270, 332, 353, 307, 504, 427, 506, 34, 323, 324 के तहत और साथ ही क्रिमिनल लॉ अमेंडमेंट एक्ट की धारा 7, लोक संपत्ति क्षति अधिनियम की धारा 3, आपदा प्रबंधन अधिनियम की धारा 51, महामारी अधिनियम की धारा 3 के तहत केस दर्ज किए हैं। इस घटना के लिए जिम्मेदार लोगों से ही नुकसान की भरपाई करवाई जाएगी।

आपको बता दें कि बीते 15 अप्रैल की दोपहर स्वास्थ्य विभाग की टीम मुरादाबाद के नागफनी थाना क्षेत्र स्थित नवाबपुरा में कोरोना संदिग्धों को लेने पहुंची थी। स्वास्थ्य विभाग और पुलिस की टीम को देखते ही कुछ स्थानीय लोगों ने घर की छतों से ईंट और पत्थर बरसाने शुरू कर दिए। इस पथराव में स्वास्थ्य विभाग के दो कर्मचारी गंभीर रूप से घायल हो गए और दो एम्बुलेंस तथा एक पुलिस वैन बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई।

घटना की सूचना पर मुरादाबाद प्रशासन ने नवाबपुरा में भारी पुलिस फोर्स तैनात कर हालात को काबू में किया। इसके बाद पुलिस ने घटना के आरोपियों को पकड़ने के लिए अभियान शुरू किया। जिन घरों की छतों से पथराव हुआ था वहां पुलिस ने दबिश देनी शुरू की। हद तो तब हो गई जब दंगाइयों ने फिर से पुलिस की टीम पर पथराव शुरू कर दिया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.