ग्रेटर नोएडा में बनेंगे तीन नए सब स्टेशन, बिजली की समस्याओं से मिलेगी निजात 

ABHISHEK SHARMA

0 72

Greater Noida : ग्रेटर नोएडा : ग्रेटर नोएडा में बिजली की मांग को देखते हुए सब स्टेशन की क्षमता कम पड़ने लगी है। शहर की बिजली जरूरत में हर साल इजाफा हो रहा है। इसे देखते ग्रेटर नोएडा शहर में तीन नए सब स्टेशन बनाने की योजना है। इनके लिए प्राधिकरण से जमीन मांगी गई है। यह बिजली घर ग्रेटर वेस्ट व ईस्ट समेत गांवों की बिजली जरूरत को भी पूरा करेंगे।

ग्रेटर नोएडा में बिजली की आपूर्ति सूरजपुर 132 केवी स्टेशन व 220 केवी आरसी ग्रीन सब स्टेशन से होती है। इस साल बिजली की मांग साढ़े चार सौ मेगावॉट तक पहुंची थी, अगले साल इसके पांच सौ मेगावॉट के अधिकतम आंकड़े को पार करने का अनुमान है।इस मांग को पूरा करने के लिए ट्रांसमिशन नेटवर्क को मजबूत करने की जरूरत है। इसलिए शहर में तीन नए सब स्टेशन का प्रस्ताव है।

एक सब स्टेशन ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस वे के नजदीक व दूसरा ग्रेटर नोएडा वेस्ट के जलपुरा में बनाने की योजना है। एक्सप्रेस वे के समीप बनने वाले सब स्टेशन से सेक्टर छह, सात, आठ, नौ, दस व 11, ईकोटेक एक एक्सटेंशन एक, अमरपुर, नियाना आदि गांवों की बिजली आपूर्ति बेहतर होगी। वहीं जलपुरा सब स्टेशन से ग्रेटर नोएडा वेस्ट की बिजली जरूरत पूरा करने में मदद मिलेगी।

ग्रेटर नोएडा वेस्ट की बिजली जरूरत अगले साल सौ मेगावाट से अधिक होने का अनुमान है।इसके अलावा 220 केवी का एक अन्य सब स्टेशन बनाने की भी योजना है।  एनपीसीएल अधिकारियों का कहना है कि कंपनी के पास बिजली की उपलब्धता पर्याप्त है, लेकिन सबसे बड़ी चुनौती बिजली भार को लेकर है।

अगर ट्रांसमिशन नेटवर्क बेहतर होगा तो बिजली की मांग पूरा करना आसान हो जाएगा। इसलिए नए सब स्टेशन का प्रस्ताव है। ग्रेटर नोएडा की बिजली मांग हर साल बढ़ रही है। नए सब स्टेशन बनने से बिजली मांग को पूरा करने में मदद मिलेगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.