दिल्ली में 10 दिन के अंदर बने 85 नए कंटेनमेंट जोन, स्वास्थ्य विभाग उठा रहा सख्त कदम

ROHIT SHARMA

0 94

नई दिल्ली :– राजधानी में दस दिन में ही 85 नए कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं। बीते कुछ दिनों से कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं। अब जिस इलाके में भी संक्रमण के मरीज मिलते हैं। उन स्थानों को कंटनेमेंट जोन घोषित किया जा रहा है। इससे रेड जोन की संख्या बढ़ रही है।

स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, 9 अगस्त तक दिल्ली में 472 रेड जोन थे,जो अब बढ़कर 557 हो गए हैं। दिल्ली में 30 जुलाई से कंटेनमेंट जोन को लेकर नया नियम लागू हुआ था, जिसके तहत संक्रमण का अंतिम मामले मिलने के 14 दिन बाद ही उस क्षेत्र को कंटेनमेंट मुक्त किया जाता है।

पहले यह नियम 28 दिन का था। इसके बाद उम्मीद जताई जा रही थी कि रेड जोन की संख्या घटेगी, लेकिन लगातार केस बढ़ने और छोटे-छोटे इलाकों को सील करने से कंटेनमेंट जोन की सख्या में इजाफा हो रहा है।

स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि संक्रमण पर लगाम लगाने के लिए स्वास्थ्य विभाग सख्त कदम उठा रहा है। जहां संक्रमण के मामले आ रहे हैं। उसके आसपास के क्षेत्र को तुरंत सील किया जा रहा है।

राजधानी में शुरुआती 355 रेड जोन बनने में करीब 90 दिन का समय लगा था। अब 10 दिन में ही 85 बनाए जा चुके हैं। अब छोटे-छोटे स्थानों को कंटेनमेंट घोषित किया जा रहा है। इसमें अब पूरी इलाके या गली को सील न करके संक्रमित के घर के आसपास के तीन या चार घरों को ही सील किया जाता है। इसी कारण रेड जोन की संख्या बढ़ रही है।

जहां भी संक्रमण के केस आते हैं। संबंधित जिला प्रशासन सुनिश्चित करता है कि उस क्षेत्र को जल्द से जल्द कंटेन किया जाए। यहां रहने वाले लोगों यहां लोगों को बेवजह बाहर निकलने की इजाजत नहीं है। राशन आदि की आपूर्ति प्रशासन की ओर से उपलब्ध करा दी जाती है। नया मामला न आने के 14 दिन के बाद ही इलाके को कंटेनमेंट मुक्त किया जाता है।

ऐसे बढ़ी कंटेनमेंट जोन की संख्या
तारीख संख्या
09 अगस्त 472
10 अगस्त 477
11 अगस्त 493
12 अगस्त 523
13 अगस्त 513
14 अगस्त 523
15 अगस्त 538
16 अगस्त 549
17 अगस्त 557
18 अगस्त 557

Leave A Reply

Your email address will not be published.