अडानी ग्रुप के वरिष्ठ अधिकारीयों ने यमुना प्राधिकरण में की बैठक, लॉजिस्टिक हब बनाने में करेंगे बड़ा निवेश

ROHIT SHARMA / ASHISH KEDIA

291

(23/03/18) ग्रेटर नोएडा :–

उत्तर प्रदेश सरकार ने इन्वेस्टर सम्मिट कार्यक्रम के दौरान गौतम बुद्ध नगर की जनता के लिए रोजगार के अवसरों को बढ़ने के लिए इस क्षेत्र में निवेश पर काफी जोर दिया था | इस इन्वेस्टर समिट में युमना प्राधिकरण के साथ देश की जानी मानी कंपनी अडानी ग्रुप ने भी एमओयू साइन किया था | जिसको लेकर युमना प्राधिकरण में एक बडा रोजगार का साधन विकसित करने के शुरू हो गई है | दरअसल युमना प्राधिकरण के इलाके में अडानी ग्रुप ने लॉजिस्टिक हब बनाने के लिए इन्वेस्ट करना शुरू कर दिया है | आज इस प्रक्रिया को आगे बढ़ाने अडानी ग्रुप के नार्थ इंडिया हेड आनंद सिंह और जनरल मैनेजर लोगिस्टिक पवन मित्तल ने यमुना प्राधिकरण के ग्रेटर नॉएडा स्थित ऑफिस आ कर प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी अरुण वीर सिंह से मुलाकात की।

इसके साथ ही युमना प्राधिकरण के इलाके में जल्द ही जेवर एयरपोर्ट बनने वाला है जिससे आने वाले समय में उद्यमियों को काफी राहत मिलेगी |

वही इन सभी बड़ी कंपनियों के इन्वेस्टमेंट को देखते हुए युमना प्राधिकरण ने अपनी कमर कसनी शुरू कर दी है | जिस तरह युमना प्राधिकरण में इन्वेस्टमेंट हो रहा है उसको लेकर प्राधिकरण भी ज्यादा से ज्यादा सुविधाओं को जल्द से जल्द बिस्किट करने में प्रयासरत है | आपको बता दे की यमुना प्राधिकरण द्वारा जेवर एयरपोर्ट के सामाजिक प्रभाव के आंकलन का काम जल्द पूरा कर लिया जाएगा | प्राधिकरण द्वारा यह भी कहा गया था कि वही सलाहकार कंपनी पीडब्ल्यूसी ने भी सामाजिक आर्थिक सर्वे का काम पूरा कर लिया है | ये दोनों रिपोर्ट जमा करने के बाद हवाई अड्डे के लिए जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया शुरू की जाएगी | साथ ही जेवर हवाई अड्डे को लेकर जीबीयू से सामाजिक प्रभाव सर्वे कराया जा रहा है| बताय गया ही की जमीन अधिगहण के नए कानून में इसका प्रावधान है | इसके बाद विशेष समिति इस आकलन को दिखेगी | समिति के आकलन के बाद ही हरी झंडी देकर जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया को शुरू किया जाएगा |

पहले चरण में 8 गांव की जमीन अधिग्रहण का होना बताया गया था तथा इन गॉंवों में आकलन किया जा रहा है | इस आकलन में प्रभावित परिवार कितनी जगह में रह रहे हैं परिवार में कितने लोग हैं , कितनो को शिफ्ट किया जाना है आदि बिंदुओं को देखा जा रहा है |

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.