मुलभुत सुविधाएं न मिलने पर एम्स गार्डिनिया के निवेशकों ने किया जोरदार प्रदर्शन 

ROHIT SHARMA

0 134

नोएडा के सेक्टर 75 एम्स गार्डिनिया में बिल्डर के खिलाफ सैकड़ो निवेशकों ने आज सुबह प्रदर्शन किया। दरअसल प्रदर्शन  टूटे-फूटे रोड लाइट, शीवर लाइन व अन्य मूलभूत सुविधाएं ना मिलने के कारण निवेशकों ने प्रदर्शन किया। आपको बता दे की एम्स गार्डिनिया के बिल्डर का नाम मलूक नागर है , जो बसपा पार्टी का पूर्व सांसद रह चूका है |

तस्वीरों में दिखने वाले प्रदर्शन करते ये लोग नोएडा के सेक्टर 75 एम्स गार्डिनिया में रहने वाले लोग है, इनलोगो का कहना है 10 वर्ष पहले हमने एम्स गार्डिनिया में फ्लैट लिया था |10 वर्ष में भी पूरे सेक्टर में कोई डेवलोपमेंट नहीं हुआ, दिनभर यहाँ धूल उड़ती रहती है | जरा सी हवा चलने पर धूल फ्लैटों में चली जाती है , बच्चो के खेलने के लिए कोई जगह नहीं है | दरअसल कोई भी यहाँ मूलभूत सुविधाएं नहीं है, रात में लूटपाट की घटना होने का डर रहता है |

सैकड़ों निवेशकों ने एकत्रित होकर बिल्डर के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए कहा बिल्डरो ने जब ये फ्लैट, कॉमन एरिया को गोल्फ बताया और इसका नाम गोल्फ सिटी रखा गया था वही आज ये गोल्फ एरिया गार्वेज एरिया जहाँ कुत्ते, बिल्लियों, जानवरो का बसेरा हो गया है। साथ ही यहाँ बड़े-बड़े कचरे के ढेर लगे है जिससे ये गोल्फ एरिया न कहलाकर गार्वेज एरिया कहलाने लगा है। प्रदर्शन करते हुए लोगो ने सरकार और प्राधिकरण से गुजारिश की है की जल्द से जल्द बिल्डर को गिरफ्तार किया जाये और उसके खिलाफ कारवाही की जाये।

नोएडा सेक्टर 75 एम्स गार्डिनिया के निवासी नवीन मिश्रा का कहना है की सेक्टर 75 की सभी सोसाइटीज से सैकड़ों निवासियों ने “महागठबंधन ” के रूप में शांतिपूर्ण गुहार में भाग लिया | सेक्टर 75 एक विशेष आवंटन व्यवस्था के तहत बिल्डर कंसोर्टियम को आवंटित किया गया है . सेक्टर के भीतर के  समस्त विकास कार्य बिल्डर कंसोर्टियम के द्वारा ही किये जाने हैं जिनमे आतंरिक सड़क , प्रकाश , हरित बेल्ट का निर्माण और व्यवस्था भी सम्मिलित हैं | इस सेक्टर में 10 के ज्यादा सोसाइटीज हैं,  जिनमे लगभग 8000 फ्लैट्स हैं |  हज़ारों फ्लैट्स में परिवार शिफ्ट भी हो चुके हैं और रह रहे हैं . कहने कि आवश्यकता नहीं है कि उपरोक्त मूल भूत सुविधाओं की कितनी ज़रूरत है यहाँ पे | समय समय पर सेक्टर निवासियों ने नॉएडा अथॉरिटी , बिल्डर और जान प्रतिनिधियों को सेक्टर कि समस्याओं से अवगत भी करवाया , परन्तु नतीजा शून्य ही रहा |

साथ ही उनका कहना है की सेक्टर में सुविधाओं के आभाव में क़ानून व्यवस्था की स्तिथि पर भी कोई कण्ट्रोल नहीं है , कुछ लोगों ने सोसाइटीज के सामने ही गाड़ियों की अनधिकृत पार्किंग कर रखी है |  गोल चक्कर पर चारों दिशाओं से ट्रैफिक तेज़ गति से चलता है  , लाइट की समुचित व्यवस्था न होने के कारण शाम में  गाड़ियों के शीशे तोड़ के चोरी जैसी घटनाएं होने लगी हैं  ,पुलिस पीसीआर वैन की गस्त भी यदा कदा ही है|

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.