आलोक सिंह बने गौतमबुद्धनगर के पुलिस कमिश्नर, डीएम की ये पावर अब मिलेंगी कमिश्नर को

ABHISHEK SHARMA

0 391

Greater Noida : उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने पुलिस सुधार की दिशा में बड़ा कदम उठाते हुए गौतमबुद्धनगर और लखनऊ में पुलिस कमिश्नर सिस्टम लागू करने का ऐलान किया। आलोक सिंह नोएडा के नए पुलिस कमिश्नर के होंगे। आज हुई कैबिनेट मीटिंग में इस प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गई।

कैबिनेट मीटिंग में लिए गए निर्णयों का जानकारी देते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बताया कि नोएडा को स्मार्ट और सुरक्षित शहर के रूप में विकसित करने के लिए पुलिस कमिश्नर प्रणाली लागू करने का फैसला लिया गया है। उन्होंने नए पुलिस सिस्ट में नोएडा में क्या-क्या व्यवस्था की जाएगी, इसका विस्तृत ब्योरा दिया।

सीएम योगी ने बताया कि प्रदेश की आर्थिक राजधानी नोएडा में अपर पुलिस महानिदेशक (एडीजी) रैंक के अधिकारी को पुलिस कमिश्नर की जिम्मेदारी दी जाएगी। उन्हें जिला मजिस्ट्रेट (डीएम) के कुछ अधिकार भी शामिल होंगे। उन्होंने बताया, ‘पुलिस कमिश्नर प्रणाली में का पुलिस का टीम वर्क होता है।

इसमें कमिश्नर को मजिस्ट्रेट के कुछ पावर दिए जाते हैं ताकि वह प्रभावी और स्मार्ट पुलिसिंग को आगे बढ़ा सके। उन्हें 15 अधिकार दिए जा रहे हैं। उन्हें अधिकार मिल जाएगा कि कौन से अधिकारी को, कौन से पावर देने हैं, वही तय कर सकें।’ पुलिस कमिश्नर के साथ दो अडिशनल पुलिस कमिश्नर होंगे जो डीआईजी रैंक के अधिकारी होंगे।

सीएम ने बताया कि पांच एसपी स्तर के अधिकारी भी नोएडा को दिए जाएंगे। योगी ने बताया कि नोएडा में महिला सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए एक एसपी रैंक की महिला अधिकारी की तैनाती की जाएगी। इस अधिकारी पर सिर्फ महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराधों को प्रभावी तरीके से निपटाने की जिम्मेदारी होगी।

सीएम ने कहा, ‘खासतौर पर महिला एसपी रैंक की अधिकारी की तैनाती होगी जो यह तय करेंगी कि महिलाओं के खिलाफ अपराधों पर अंकुश लगाने के समयबद्ध विवेचना और अभियोजन प्रक्रिया पूरी हो।’

योगी आदित्यनाथ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि नोएडा में यातायात व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए भी बड़े कदम उठाए गए हैं। उन्होंने कहा कि यातायात पुलिस में भी एसपी रैंक के अधिकारी होंगे। उन्होंने कहा कि यातायात गतिविधियों की निगरानी के लिए निर्भया फंड से सीसीटीवी कैमरों और लाइटिंग की व्यवस्था की जाएगी। उन्होंने बताया कि नोएडा में कुछ नए थाने भी बनाए जाएंगे। अभी दो नए थाने बनाने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है।

खास बातें

  • दो जॉइंट सीपी पुलिस कमिश्नर का देंगे साथ
  • लखनऊ में 10 और नोएडा में होंगे 7 डिप्टी कमिश्नर
  • महिला सुरक्षा के लिए दोनों शहरों में 1-1 महिला पुलिस अधिकारी
  • यातायात के लिए भी अलग से एक एक पुलिस अधिकारी

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.