ग्रेटर नोएडा : आशुतोष नंदन ने सिविल सेवा परीक्षा में हासिल की 818वीं रैंक, डीडीआरडब्ल्यूए ने किया सम्मानित

ABHISHEK SHARMA

0 116

ग्रेटर नोएडा : प्रयास यदि निरंतर जारी रहे तो सफलता मिलती है। संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा में 818 रैंक प्राप्त कर जिले के प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक ने इस बात को सच साबित कर दिया है। उन्होंने तीसरे प्रयास में सफलता प्राप्त की।

मूल रूप से प्रयागराज के रहने वाले आशुतोष नंदन ग्रेटर नोएडा के अल्फा एक सेक्टर में रहते हैं। वह मोमनाथल गांव के प्राथमिक विद्यालय में अध्यापक हैं। नौकरी के साथ-साथ वह परीक्षा की तैयारी भी कर रहे थे। आखिरकार तीसरे प्रयास में उन्होंने सफलता हासिल की।

आशुतोष ने बताया वह श्रवण बाधित श्रेणी में हैं। उम्मीद है आइएएस रैंक मिल जाएगी। उनका कहना है स्कूल में नौकरी के दौरान लगातार छह घंटे पढ़ाई करते थे। उन्होंने बताया तैयारी की प्रेरणा पिता सत्य प्रकाश से मिली। उन्होंने चौथे प्रयास में पीसीएस-जे परीक्षा पास की थी।

वह वर्तमान में बिहार के मधुबनी जिले में अपर जिला एवं सत्र न्यायधीश हैं। आशुतोष ने बताया इंजीनियरिग की परीक्षा पास करने के बाद 2017 में बीटीसी की पढ़ाई की। जिसके बाद शिक्षक पद पर चयन हुआ।

डिस्ट्रिक्ट डेवलपमेंट रेजिडेंट्स वेलफेयर एसोसिएशन (डीडीआरडब्ल्यूए) ने रविवार को यूपीएससी की परीक्षा में 818वीं रैंक पाने वाले आशुतोष नंदन को सम्मानित किया।

संस्था के अध्यक्ष एनपी सिंह ने बताया कि ग्रेटर नोएडा के सेक्टर अल्फा-1 में रहने वाले आशुतोष नंदन ने यूपीएससी में 818वीं रैंक हासिल कर पूरे जिले का नाम रोशन किया है। इस अवसर पर संस्था ने गुलदस्ता और मोमेंटो देकर उन्हें सम्मानित किया।

बता दें कि आशुतोष नंदन दनकौर ब्लॉक में सहायक अध्यापक की नौकरी कर रहे हैं। महासचिव शेर सिंह भाटी ने बताया कि संस्था गौतम बुद्ध नगर में यूपीएससी में उत्तीर्ण हुए सभी होनहारों को सम्मानित करेगी।

इस मौके पर वरिष्ठ उपाध्यक्ष राजेंद्र शुक्ला, उपाध्यक्ष जितेंद्र भाटी, संजय मावी, ओमप्रकाश शेखावत, लोकेश कुमार सिसोदिया, माधव लोह पत्रे, गिरीश चंद शर्मा, संजय मावी आदि मौजूद रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.