भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में दिल्ली यूनिवर्सिटी के प्रोफ़ेसर के घर नोएडा में छापामारी

Abhishek Sharma / Rahul Kumar Jha

0 99

Noida : भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में नोएडा और पुणे पुलिस ने सयुंक्त रूप से कार्रवाई करते हुए आज नोएडा में रहने वाले दिल्ली विश्वविद्यालय के एक प्रोफेसर के घर छापेमारी की। प्रोफेसर हनी बाबू (45) डीयू में अंग्रेजी पढ़ाते हैं।


जानकारी के अनुसार, पुणे पुलिस ने आज दिल्ली यूनिवर्सिटी (डीयू) के प्रोफेसर हनी बाबू नोएडा के सेक्टर-78 स्थित घर पर 2017 के एल्गार परिषद मामले में छापेमारी की। पुलिस की इस छापेमारी से इलाके में हड़कंप मच गया। एक वरिष्ठ अधिकारी ने यहां बताया कि प्रोफेसर के कथित माओवादी संपर्कों (अर्बन नक्सल) को लेकर छापेमारी की गई।

इस छापेमारी की कार्रवाई की पुष्टि करते हुए सहायक पुलिस आयुक्त शिवाजी पवार ने कहा कि उनके द्वारा कोई गिरफ्तारी नहीं की गई है। पवार ने कहा कि हमने पुणे के विश्रामबाग पुलिस थाने में दर्ज एल्गार परिषद से संबंधित मामले के सिलसिले में नोएडा स्थित प्रोफेसर के घर पर छापा मारा। पुलिस ने तलाशी के दौरान प्रोफेसर हनी बाबू के घर से लेपटॉप, हार्ड डिस्क और पेन ड्राइव जब्त की हैंं।

पुणे के ऐतिहासिक शनिवार वाड़ा में 31 दिसंबर 2017 को कोरेगांव भीमा युद्ध की 200वीं वर्षगांठ से पहले एलगार सम्मेलन आयोजित किया गया था। पुलिस के मुताबिक, इस कार्यक्रम के दौरान दिए गए भाषणों की वजह से जिले के भीमा-कोरेगांव के आसपास एक जनवरी 2018 को जातीय हिंसा भड़क गई जिसमें एक शख्स की मौत हो गई और कई अन्य घायल हो गए थे। पुलिस ने इस मामले में अब तक नौ लोगों को गिरफ्तार किया है।

गौरतलब है कि 2018 में भीमा-कोरेगांव में हिंसा भड़क गई थी और पुलिस को इसके पीछे नक्सलियों के होने का शक है जिसके चलते कई लोगों के घर पर छापेमारी हो चुकी है, वहीं पूर्व में कई लोगों को उनके घर में ही नजरबंद किया जा चुका है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.