नोएडा : कैप्टाउन सोसाइटी के निवासियों ने बिल्डर के खिलाफ की जमकर नारेबाजी, निम्न स्तर की मिल रही है सुविधाएं 

ABHISHEK SHARMA

0 787

नोएडा के सेक्टर 74 स्थित केपटाउन सोसाइटी में मेन्टिनेंस एजेन्सी सुपरटेक एस्टेट एवं बिल्डर सुपरटेक लिमिटेड द्वारा दी जा रही निम्न स्तर की सेवाओं के खिलाफ निवासियों का रोष फूट पड़ा। निवासियों ने सुपरटेक के नार्थ आई स्थित मार्केटिंग ऑफिस जाकर निदेशक अनिल शर्मा और सुपरटेक एस्टेट के नितीश अरोरा के सामने सुपरटेक के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

सोसाइटी के आरडब्ल्यूए अध्यक्ष अरुण शर्मा ने बताया कि बिल्डर द्वारा सिर्फ 535 पानी कनेक्शन लिए गए हैं जबकि यहां पर 4000 से अधिक परिवार रह रहे हैं। इस वजह से सोसाइटी में गंगाजल की जगह भूजल दोहन किया जा रहा है। इससे पानी की गुणवत्ता खराब है और पानी की निरंतर कमी भी बनी रहती है। साथ ही निवासी विभिन्न प्रकार के रोगों से ग्रस्त हो रहे हैं।

केप टाउन एओए के अध्यक्ष अरुण शर्मा ने बताया इलाहाबाद उच्च न्यायालय के आदेश के अनुपालन में सीईओ ऋतु माहेश्वरी द्वारा केपटाउन सोसाइटी की फैसिलिटी मैनेजमेंट 01 सितंबर से एओए को हस्तांतरित किये जाने का स्पष्ट आदेश होने के बावजूद बिल्डर उसका अनुपालन नहीं कर रहा है। बिल्डर द्वारा अति निम्न स्तर की मेन्टिनेंस सुविधा दी जा रही है, जिससे निवासियों में रोष है।

केप टाउन सोसाइटी का पूरा साझा क्षेत्र मार्च 2020 से कोरोना केस के कारण लगातार कन्टेन्मेंट जोन बना हुआ है। इससे लोग पहले से ही भीषण मानसिक दबाव से गुजर रहे हैं। ऊपर से बिल्डर न तो शुद्द पानी आपूर्ति कर रहा है न पर्याप्त बिजली कनेक्शन लिया है। ओपन पार्किंग अवैध रूप से बेच रहा है और आये दिन फ्लैट और टॉवर में पलास्टर गिरता रहता है।

उन्होंने बताया क़ि केप टाउन एओए बिल्डर द्वारा किये जा रहे शोषण के खिलाफ निवासियों के रोष का समर्थन करती है एवं सभी राजनैतिक संगठन, जन प्रतिनिधि एवं नोएडा अथॉरिटी के वरिष्ठ अधिकारियों से आग्रह करती है कि इस बिल्डर एवं उसकी एजेंसी से हम सभी को निजात दिलाएं जिससे इलाहाबाद उच्च न्यायालय के आदेश का अनुपालन हो सके।

Leave A Reply

Your email address will not be published.