दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री का बयान , कोरोना के केस दोगुने होने की रफ्तार अब भी 12 दिन

Rohit Sharma

0 105

नई दिल्ली :– दिल्ली में बढ़ रहे आंकड़ों पर स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा है कि अभी दिल्ली में केस दोगुना होने की रफ्तार 11 से 12 दिन है। पहले केस दोगुने होने की रफ्तार तीन-चार दिन थी, जो 6-7 दिन पर पहुंची और अब 11-12 दिन हो गई है। अगर केस दोगुने होने की रफ्तार 20 या इससे अधिक दिन हो जाए, तो अच्छा रहेगा।

वहीं स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि 9 और लोगों की मौत की पुष्टि हुई है। दिल्ली में अभी तक कुल 115 लोगों की मौत हुई है। मंत्री ने कहा कि तीन दिन पहले हमने सभी अस्पतालों को मौत की समरी भेजने के लिए निर्देशित किया था। अब सभी अस्पताल डेथ समरी भेज रहे हैं।

उन्होंने कहा कि हमने पहले भी बताया था कि अगर अस्पताल में 4 मौतें हुईं हैं, तो मृतकों के नाम, पते आदि के बारे में पूछा जाता है। बिना डेथ समरी के यह बता पाना मुश्किल है, इसलिए हमने डिजॉस्टर एक्ट के तहत सभी अस्पतालों को निर्देश दिया है कि वे डेथ समरी भी दें।

डीएम ऑफिस में संक्रमण फैलने पर स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि ये फ्रंट लाइन वर्कर्स हैं। पिछले 2 महीने से लॉकडाउन में ज्यादातर सरकारी कार्यालय बंद थे। यह लोग क्षेत्र में निकल कर दिन-रात काम कर रहे थे। फ्रंट लाइन में काम करने के दौरान संक्रमण की ज्यादा संभावना रहती है।

उन्होंने कहा कि जांच को लेकर केंद्र सरकार ने प्रोटोकॉल बनाया हुआ है। रैपिड टेस्ट की अभी तक केंद्र सरकार ने अनुमति नहीं दी है। जब केंद्र इसकी अनुमति देगा, तब रैपिड टेस्ट कराएंगे।

17 मई के बाद दिल्ली में रियायतें मिलने की संभावना पर जैन ने कहा कि मुख्यमंत्री ने जनता से सुझाव मांगे थे। जनता के सभी सुझावों पर विचार किया गया है और पॉलिसी बनाई जा रही है। एक-दो दिन में पता चल जाएगा कि क्या-क्या खुलेगा। जो कुछ भी खुलेगा, वहां सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन कराया जाएगा।

मंत्री ने कहा कि अब ऐसा नहीं लगता है कि कोरोना एक-दो महीने में खत्म होने वाली चीज है। हमें इससे बचने के लिए तरीका निकालना पड़ेगा। हमें बार-बार अपने हाथों को धोते रहना चाहिए। साबुन या सैनिटाइजर से हाथ साफ करते रहें। घर से बाहर निकलने के दौरान मास्क जरूर लगाएं।

सभी लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। वरिष्ठ नागरिक खासकर 65 से अधिक उम्र के लोगों को बचा कर रखना होगा। जो किसी गंभीर बीमारी से ग्रसित हैं। मसलन- किडनी खराब है, कैंसर, शुगर और हार्ट की बीमारी है, वे लोग अपने आप को बचा कर रखें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.