डीडीआरडब्लयूए व सामाजिक संगठनों ने सीईओ डाॅ. अरुणवीर सिंह के साथ की वर्चुअल बैठक, इन मुद्दों पर हुई चर्चा

ABHISHEK SHARMA

0 287

 

Greater Noida : यमुना प्राधिकरण और नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड के सीईओ डॉक्टर अरुण वीर सिंह के साथ डिस्ट्रिक्ट डेवलपमेंट रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन के प्रतिनिधियों ने एक वर्चुअल बैठक का आयोजन किया। जिसमें डीडीआरडब्लूए के लोगों के साथ-साथ अन्य सामाजिक संगठनों ने भी हिस्सा लिया।

इस वर्चुअल बैठक में शहर के विकास समेत तमाम ज्वलंत मुद्दों पर चर्चा की गई। जिनका समाधान करने के लिए सीईओ ने आश्वासन दिया। इस बैठक में डिस्ट्रिक्ट डेवलपमेंट रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन के लिए कार्यालय देने, दुकानों के साथ ऊपर मकान बनाने, आसपास के क्षेत्रों में कारीगरों के लिए निवास के प्रावधान के साथ नोएडा एयरपोर्ट के पास आभूषण पार्क बनाने व एकीकृत टाउनशिप के रूप में विकसित करने की मांग की।

*बैठक के दौरान इन मुख्य बिंदुओं पर मांग व चर्चा की गई*

– डीडीआरडब्लयूए के लिए एक छोटे से कार्यालय की मांग उठाई गई।

– वाणिज्यिक बाजार जैसे सेक्टर 18 है, यहां दुकानों के ऊपर निवास स्थान के साथ, आसपास के क्षेत्र में कारीगरों के निवास के प्रावधान के साथ जेवर हवाई अड्डे के पास एक आभूषण पार्क बनाने की मांग।

-इसे एकीकृत टाउनशिप के रूप में विकसित करने की मांग। मिक्स लैंड यूज के साथ।

– आगामी हवाई अड्डे के लिए श्रमिकों के लिए किफायती आवास।

– ग्रामीणों के लिए नौकरियों / नौकरी की सुरक्षा में प्राथमिकता, जिनकी जमीनें विकास के लिए जा रही हैं।

– विकास को हरा-भरा और पर्यावरण के अनुकूल रखना, अनिवार्य वर्षा जल संचयन, ऊर्जा के नवीकरणीय स्रोतों जैसे सौर और पवन आदि का उपयोग।

– नोएडा तथा ग्रेटर नोएडा में पीने योग्य पानी और उचित सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट नहीं है। आगामी शहर के लिए सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट / सिस्टम, पीने योग्य पानी और कचरा प्रबंधन के साधनों की उचित देखभाल की जानी चाहिए।

– कच्चे माल के बाजार के विकास के साथ-साथ परिवहन हब/नगर की मांग जो नोएडा में नहीं बनाए गए हैं।

– अब तक की सभी भूखंड योजनाएं बहुत बड़े भूखंडों के लिए हैं जिनके परिणामस्वरूप क्षेत्र अभी भी आबाद नहीं हुआ है। शहर को आबाद करने के लिए अब, आवश्यकता छोटे आकार के भूखंडों के लिए है ताकि लोग अपना जीवन जीना शुरू कर सकें और क्षेत्र विकसित हो सके।

– परिवहन में सुधार शहर के अंदर व दूसरे शहरों के साथ। डीडीआरडब्ल्यूए के सदस्यों को टोल टैक्स से छूट देने की मांग उठाई गई।

इस बैठक में मुख्य रूप से सुशील अग्रवाल, एनपी सिंह, शेर सिंह भाटी, सुरेंद्र नाहटा, विष्णु सैनी, सुशील कुमार जैन, संजीव कुमार, आलोक सिंह, राजीव, ममता तिवारी, जितेंद्र भाटी, डॉ वीरेंद्र सिंह, महिपाल सिंह, एस.पी. चौहान, प्रदीप मिश्रा, अशोक यादव, अध्यक्ष, बृजेश चौहान, एनएस चौहान, रोशनी, अनिता तिवारी, मान सिंह चौहान, ललित चौहान, पीयूष द्विवेदी, गिरीश चौहान समेत अन्य लोग शामिल रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.