सीएम अरविंद केजरीवाल स्वतंत्रता दिवस पर बोले , पूरे देश में दिल्ली मॉडल की चर्चा, लोगों का डर कम हुआ

Rohit Sharma

0 102

नई दिल्ली :– दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर दिल्ली सचिवालय में ध्वजारोहण किया. इस दौरान उन्होंने ‘भारत माता की जय’, ‘इंकलाब जिंदाबाद’ और ‘वंदे मातरम’ के नारे लगाए।

 

केजरीवाल ने कहा, ‘सभी को स्वतंत्रता दिवस की बधाई और शुभकामनाएं. आज का दिन उन सभी शहीदों को याद करने का दिन है, जिन्होंने अपने देश को आजाद कराने के लिए अपनी जान की कुर्बानी दी।

 

मुख्यमंत्री ने आगे कहा, ‘शहीद-ए-आजम भगत सिंह, चंद्रशेखर आजाद, अशफाक उल्ला खान, सुभाष चंद्र बोस ऐसे लाखों लोग हैं, जिन्होंने अपने देश को अंग्रेजों से आजाद कराने के लिए बड़ी-बड़ी कुर्बानियां दीं. महात्मा गांधी, सरदार पटेल, बाबा साहब अंबेडकर, जवाहर लाल नेहरू, यह वह लोग हैं, जिन्होंने देश को आजाद कराने के लिए तपस्या की।

 

आज का दिन उन लोगों को भी याद करने का दिन है, जिन्होंने पिछले 73 साल में देश की आजादी को बरकरार रखने के लिए और देश को सुरक्षित रखने के लिए देश की सीमाओं पर अपनी बड़ी-बड़ी कुर्बानियां दीं।

केजरीवाल ने कहा, ‘अभी पिछले दिनों हमने सुना कि भारत चीन बॉर्डर पर हमारे 20 सैनिक शहीद हो गए. आज जब हम खुली हवा में सांस लेते हैं और आजादी से घूमते हैं तो हम भूल जाते हैं कि ना जाने कितने ऐसे सैनिकों ने अपनी जान की कुर्बानी दी है।

 

आज उन सभी सैनिकों को हम याद करते हैं और उनका सम्मान करते हैं और उनको नमन करते हैं, लेकिन साथ ही यह प्रतिज्ञा भी लेते हैं कि जितने लोगों ने देश की आजादी की लड़ाई लड़ी थी, कि आजादी के जो दीवाने थे उनके जो सपने हैं, उनके सपनों को पूरा करने में अपना योगदान दें।

 

उन्होंने कोरोना मामलों पर कहा, ‘दिल्ली के अंदर आज हालात काफी कंट्रोल में हैं. मैं दिल्ली के लोगों को बधाई देता हूं. दिल्ली के लोगों ने पिछले कुछ वर्षों में बहुत से अभूतपूर्व काम करके दिखाएं हैं. जब हर जगह प्रदूषण बढ़ रहा था, तब दिल्ली पूरे देश में शायद अकेला ऐसा शहर था, जहां 25 फीसदी प्रदूषण यहां के लोगों ने कम करके दिखाया।

 

पिछले 5 सालों में 2015 में जिस स्तर पर प्रदूषण था, 2019 में उस से 25 फीसदी कम हो गया. यह अच्छी बात है लेकिन हम इससे संतुष्ट नहीं हैं. हम और भी बहुत से कदम उठाएंगे लेकिन बड़ी बात यह है कि जब पूरी दुनिया और देश के अंदर जब प्रदूषण बढ़ रहा था उस वक्त दिल्ली के अंदर प्रदूषण कम हो रहा था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.