दिल्ली को पहली बार मिली 700 मीट्रिक टन ऑक्सीजन, रोजाना ऐसा ही रहा तो नहीं मरेगा कोई : केजरीवाल 

Ten News Network

0 219

नई दिल्ली :– दिल्ली मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि दिल्ली को प्रतिदिन 700 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की जरूरत है, लेकिन कल पहली बार दिल्ली को 730 मीट्रिक टन ऑक्सीजन मिली है। उन्होंने कहा कि 1 दिन 700 मीट्रिक टन ऑक्सीजन देने से काम नहीं चलेगा, जब तक कोरोना के मामले कम नहीं हो जाते, हमें प्रतिदिन 700 मीट्रिक टन ऑक्सीजन चाहिए।

 

जब दिल्ली में ऑक्सीजन की कमी थी तो बहुत से अस्पतालों ने बेड की संख्या कम कर दी थी। सभी अस्पतालों से निवेदन है कि वे अपने बेड की संख्या बढ़ा लें और पहले जितने बेड थे, उतने बेड उपलब्ध कराएं। हम उम्मीद करते हैं कि अब हमें प्रतिदिन 700 टन ऑक्सीजन मिलेगी।

 

उन्होंने कहा कि बुधवार को पहली बार केंद्र सरकार ने दिल्ली को 730 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की आपूर्ति की थी, जबकि दिल्ली को 700 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की आवश्यकता है। हम केंद्र, दिल्ली हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट के आभारी हैं। उनके प्रयासों से हमें 730 मीट्रिक टन ऑक्सीजन प्राप्त हुई। मैं सभी से हाथ जोड़कर निवेदन करता हूं कि आपूर्ति कम न करें, हम आपके शुक्रगुजार रहेंगे।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि अगर हमें ऑक्सीजन की पर्याप्त आपूर्ति की जाए तो हम दिल्ली में 9000-9500 और नए ऑक्सीजन बेड बढ़ा सकेंगे। मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि हम दिल्ली में ऑक्सीजन की कमी से किसी को मरने नहीं देंगे।

इसके साथ ही केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में अब तक हम 35,74,000 वैक्सीन डोज दे चुके हैं। लगभग 28 लाख लोगों ने पहली डोज ली है, इनमें से 7,76,000 लोगों ने दोनों डोज ली हैं। 18-45 आयु वर्ग में 3 दिन के अंदर दिल्ली में लगभग 1,30,000 लोगों को वैक्सीन लगाई गई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.