नोएडा : कोविड अस्पताल में खाने के बिलों में धांधली मिली, ठेकेदार का टेंडर निरस्त करने का आदेश

ABHISHEK SHARMA

0 85

नोएडा के सेक्टर-39 स्थित कोविड अस्पताल के खाने के बिलों में धांधली सामने आने के बाद स्वास्थ्य विभाग हरकत में आया है। सेक्टर-30 स्थित जिला अस्पताल अस्पताल की मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमएस) व कोविड अस्पताल की प्रभारी डॉ. रेनू अग्रवाल ने कैटरिग ठेकेदार का टेंडर निरस्त करने के लिए स्वास्थ्य विभाग को पत्र लिखा है।

मामले में उचित कार्रवाई के लिए निवेदन किया है। दरअसल कैटरिग ठेकेदार ने बीते दिन भुगतान के लिए एक माह में 3,440 प्लेटों के बजाय 3,804 प्लेट खाना आपूर्ति करने के दो बिल तैयार कर सीएमएस के समक्ष पेश किए। एक बिल 18 सितंबर से 30 सितंबर तक का था। जिसमें मरीजों को 1,670 प्लेट खाना आपूर्ति किया, जबकि 1,840 प्लेट का बिल बना दिया। इसमें 170 प्लेट खाने का बिल अतिरिक्त जुड़ा है।

वहीं, दूसरा बिल 1 अक्टूबर से 15 अक्टूबर तक का है। इन 15 दिनों में ठेकेदार ने 1,770 प्लेट खाने की आपूर्ति की, बिल 1,964 प्लेट का बनाकर पेश कर दिया। इस बिल में 194 प्लेट अतिरिक्त जोड़ी गई है। जांच में एक लाख रुपये का फर्जीवाड़ा सामने आया है।

खाने के निर्धारित मूल्य के सापेक्ष बिलों में धनराशि ज्यादा मिलने पर जब सीएमएस ने बिलों का सत्यापन किया, तो ठेकेदार का पूरा खेल पकड़ में आया। सीएमएस डॉ. रेनू अग्रवाल का कहना है कि ठेकेदार के भुगतान पर रोक लगाकर शीर्ष अफसरों व सीएमओ को टेंडर निरस्त करने के लिए पत्र लिखा है।

गौरतलब है कि सितंबर माह में कोविड अस्पताल के खाने में कीड़ा निकलने की घटना के बाद स्वास्थ्य विभाग ने दूसरा टेंडर निकाला था। एक व्यक्ति को संक्रमितों के लिए 90 रुपये व स्टाफ के लिए 400 रुपये प्रतिदिन तीन समय का खाना आपूर्ति करने का टेंडर दिया गया था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.