कोरोना से मौत पर दिल्ली में चल रहा है विवाद, एमसीडी का दावा 340 लोगों ने गंवाई जान

Rohit Sharma

0 238

नई दिल्ली :– दिल्ली में कोरोना से हुई मौत के आंकड़ों को लेकर विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है | दिल्ली भारतीय जनता पार्टी के बाद अब दिल्ली नगर निगम ने केजरीवाल सरकार पर कोरोना संक्रमण से हुई मौतों के आंकड़े छिपाने का आरोप लगाया है |

दिल्ली नगर निगम ने बाकायदा आधिकारिक रूप से सूची भी जारी कर दी है | एमसीडी ने कोरोना से होने वाली मौतों के आधिकारिक आंकड़े जारी किए हैं. एमसीडी ने दिल्ली में कोरोना से 340 लोगों की मौत का दावा किया है |

साउथ एमसीडी में 187 और नॉर्थ एमसीडी में 153 कोरोना मरीज़ों की मौत का दावा किया गया है | दूसरी ओर दिल्ली सरकार के मुताबिक कोरोना से अबतक 73 लोगों की हुई मौत हुई है |

साउथ एमसीडी का दावा है कि अब तक उसके इलाके के श्मशान और कब्रिस्तान में कोरोना के 187 मृतकों का अंतिम संस्कार किया जा चुका है | नॉर्थ एमसीडी के मुताबिक निगम बोध घाट में 9 मई तक 153 कोरोना पॉजिटिव/संदिग्धों का अंतिम संस्कार कोरोना प्रोटोकॉल के तहत हुआ | जबकि साउथ एमसीडी के मुताबिक 10 मई तक पंजाबी बाग घाट पर 96, आईटीओ कब्रिस्तान पर 91 कोरोना पॉजिटिव/संदिग्धों का अंतिम संस्कार हुआ |

दूसरी ओर दिल्ली सरकार ने अबतक 73 कोरोना मरीज़ों की मौत की पुष्टि की है | जबकि दोनों नगर निगमों के मुताबिक 340 मृतकों का अंतिम संस्कार कोरोना प्रोटोकॉल के तहत किया गया है | साउथ एमसीडी के चेयरमैन भूपेंद्र गुप्ता का दावा है कि केजरीवाल सरकार आंकड़े छुपा रही है |

भूपेंद्र गुप्ता कहते हैं कि केजरीवाल सरकार मौत के आंकड़ों को कम करके बता रही है, लेकिन श्मशान घाट और कब्रिस्तान के आंकड़े झूठ नहीं बोलते हैं. हालांकि दिल्ली सरकार में स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने इन सभी आरोपों से इनकार कर दिया है. सत्येंद्र जैन ने कहा है कि सभी मौतों को कोरोना से जोड़ना गलत है |

Leave A Reply

Your email address will not be published.