मुख्यमंत्री की फटकार से आहत गौतम बुध नगर के डीएम की 3 माह की छुट्टी मंजूर

Abhishek Sharma

0 578

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज गौतम बुध नगर के दौरे पर रहे। जहां ग्रेटर नोएडा के गौतम बुद्ध यूनिवर्सिटी में उन्होंने जिले के आला-अधिकारियों के साथ कोरोना वायरस पर बैठक ली। इस दौरान उन्होंने जिला प्रशासन समेत आला अधिकारियों को जमकर फटकार लगाई।

जिसके बाद गौतम बुध नगर के डीएम बीएन सिंह ने पत्र लिखकर 3 महीने अवकाश पर जाने की मांग की है माना जा रहा है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की फटकार के बाद डीएम बीएन सिंह ने यह पत्र लिखा है। डीएम बी एन सिंह ने उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव आरके तिवारी को 3 महीने की अवकाश के लिए पत्र लिखा है।

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्धनगर जिले में जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग अब तक कोरोना वायरस पर रोक लगाने में नाकामयाब साबित हुआ है। गौतम बुद्ध नगर में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या बढ़कर 37 हो गई है। जबकि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ राज्य से कोरोना वायरस खत्म करने के लिए दिन-रात कड़ी मेहनत कर रहे हैं।

आज गौतम बुध विश्वविद्यालय के सभागार में अधिकारियों की बैठक लेते हुए उन्होंने डीएम बीएन सिंह और मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ अनुराग भार्गव को अन्य सभी अधिकारियों के सामने जमकर फटकार लगाई।

सीएम ने सीजफायर कंपनी में लंदन से आए ऑडिटर मिस्टर जॉन का मामला उठाते हुए कहा कि जिन स्थानों पर वह गया और जिन व्यक्तियों के संपर्क में आया, तभी ऐसे लोगों और स्थानों को चिन्हित क्यों नहीं किया गया। सीएम ने कहा कि यह सारी जिम्मेदारी जिलाधिकारी की थी जिस पर वह खरे नहीं उतरे।

अब माना जा रहा है कि मुख्यमंत्री की फटकार से आहत होकर जिलाधिकारी बीएन सिंह ने उत्तर प्रदेश के चीफ सेक्रेट्री आरके तिवारी को पत्र लिखकर 3 महीने की छुट्टी पर जाने की मांग की है।

बड़ा सवाल यह भी उठता है कि जब जिला इतनी बड़ी आपदा से जूझ रहा है, ऐसे में यहां पर वर्षों से जमे जिलाधिकारी का अचानक छुट्टियों पर जाना कितना सही फैसला है। वहीं गौतम बुध नगर में बी एन सिंह ने गुंडा एक्ट पर बड़ी संख्या में कार्रवाई की थी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.