डी.एम जी.बी नगर ने हॉटस्पॉट चिन्हित होने के बाद दिए निर्देश

0 298

भारत में कोरोना संक्रमण से लड़ाई युद्ध स्तर पर जारी है, जिसके क्रम में कल शाम उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना से अति प्रभावित 15 जिलों के डीएम की मीटिंग बुलाकर हॉटस्पॉट चिन्हित कर थानों की जानकारी लेकर हॉटस्पॉट्स को पूरी तरह सील करने के निर्देश दिए। जिसके अंतर्गत गौतमबुद्ध नगर के हॉटस्पॉट भी चिन्हित हैं जिन पर कार्यवाही हो रही है

सुहास एल वाई जिला अधिकारी गौतमबुद्ध नगर ने सभी पासेस जो कि हॉटस्पॉट के अंदर आते हों सिवाय पुलिस ,हेल्थ ,और सैनेटाइजेशन के कर्मियों के, उनको तत्काल प्रभाव से निरस्त कर दिया है । साथ में यह भी कहा की जो दुसरे विभाग के पासेस हैं, उन्हें दोबारा रीकन्सीडर करवाएं। आगे पैकेट वितरण एवं समाज सेवियों को निर्देश देते हुए कहा कि नॉएडा, ग्रेटर नॉएडा एवं यमुना एक्सप्रेसवे अथॉरिटी और एस.डी.एम(गॉंव सम्बन्धी) से उन इलाकों का संज्ञान लें जहाँ आप रसद पंहुचा सकते हैं।

आगे जिलाधिकारी सुहासएल वाई ,मंडी सचिवों को निर्देश देते हैं कि जो भी सील्ड हॉटस्पॉट इलाके हैं, उनके इलाके में स्टाल लगाकर घर तक सब्जी फल अदि की वयवस्था करें। और किसी भी समस्या के लिए कंट्रोल रूम हेल्पलाइन नंबर जारी किया है 18004192211 , आगे जो कारखाने जरूरी सेवा में लिप्त हैं उनको कहा गया है कि वे अपने एम्प्लाइज को पूलिंग कन्वीएंस करें।

कोविड टेस्टिंग लैब्स के बारे में बताते हुए जिलाधिकारी ने अपने सोशल मीडिया हैंडलर पर जानकारी दी कि जिम्स और चाइल्ड पी.जी.आई को और ज्यादा अपग्रेड किया जा रहा है और मोबाइल सैंपल कलेक्शन हॉटस्पॉटस से आज से शुरू हो गया है। और डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल्स भी जल्द ही सैंपल कलैक्शन करेंगे। साथ में क्लस्टर कन्टेनमेंट की जानकारी देते हुए सुहास एल वाई ने बताया कि अभी तक 338 लोगों को चिन्हित किया गया है जिनकी ट्रैवल हिस्ट्री रही है जिनको मॉनिटर किया जा रहा है

उत्तरप्रदेश और गौतम बुद्ध नगर में इतनी तेज़ी से आपदा प्रबंधन की टीम ने संक्रमण संख्या पर काबू पाने की इस कोशिश को एक सराहनीय कदम बताया जा रहा है ,जिसमें डायरेक्ट हॉटस्पॉट को चिन्हित करके उसमें मरीजों का सैंपल लेकर कोरोना पर विजय प्राप्त हो सकती है। इसके साथ ही देखना होगा और कितने राज्य इस काम करने के तरीके को अपनाते हैं और हॉटस्पॉट को चिन्हित कर आवशयक कार्यवाही करते हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.