यूपी के कई जिलों में कोरोना किट की खरीद में घोटाला, सीएम ने एसआईटी गठित कर जांच के दिए आदेश

ABHISHEK SHARMA

0 100

जनसंख्या के हिसाब से देश के सबसे बडे राज्य उत्तर प्रदेश उत्तर प्रदेश में कोरोना का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। जिसको रोकने के लिए राज्य सरकार हर संभव प्रयास कर रही है।

वहीं दूसरी ओर राज्य के कुछ जिलो में मेडिकल उपकरणों में घोटाले की आशंका के चलते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सुल्तानपुर और गाजीपुर समेत कुछ जिलों की ग्राम पंचायतों में इन्फ्रारेड थर्मामीटर, पल्स ऑक्सीमीटर को बाजार मूल्य से अधिक कीमत पर खरीदने के मामले की गम्भीरता को समझते हुए इस मामले की जांच के लिए एसआईटी के गठन के निर्देश दिए हैं।

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश शासन ने राजस्व विभाग की अपर मुख्य सचिव रेणुका कुमार की अध्यक्षता में एसआईटी गठित की है। चिकित्सा शिक्षा विभाग के सचिव अमित गुप्ता और नगर विकास सचिव को इसका सदस्य नामित किया गया है। एसआईटी मामले की जांच कर 10 दिन में अपनी रिपोर्ट पेश करेगी।

एक सरकारी बयान के मुताबिक, शासन ने कोरोना वायरस महामारी पर नियंत्रण के लिए प्रत्येक ग्राम पंचायत में पल्स ऑक्सीमीटर, इन्फ्रारेड थर्मामीटर और सेनेटाइजर का एक सेट राज्य वित्त आयोग की धनराशि से खरीदे किए जाने के निर्देश दिए थे।

सुल्तानपुर और गाजीपुर के साथ कुछ अन्य जिलों में कुछ ग्राम पंचायतों में बाजार मूल्य से अधिक इन उपकरणों को खरीदे जाने की जानकारी शासन को प्राप्त हुई थी। जिसका संज्ञान लेते हुए सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने एसआइटी गठित कर जांच के आदेश दिए हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.