251 का मोबाइल देश की जनता के साथ धोखा ? (Do you agree ? Post your comments)

1 229

251 का मोबाइल देश की जनता के साथ धोखा ?

251 का मोबाइल देश की जनता के साथ धोखा ?
इस गोरख धंधे में मोदी और अखिलेश सरकार खामोश
रिंगिंग बेल्स कंपनी ने २५१ का मोबाइल देश की जनता के लिए उतारा हैँ,सरकार को धोखा देकर रक्षा मंत्री मोहन परिकर से इसका उद्धघाटन भी करवा लिया,अब देश की जनता को लूटने के लिए वेबसाइट पर बुकिंग भी शुरू कर दी ,इस धोखे को मोदी सरकार की एजेंसियों ने भी खामोश हो कर क्लीन चिट दे डाली है

आइये देखें क्या है इस फोन की खासियत, विरोध की अौर क्या है वजह….
जिस Freedom 251 फोन को दुनिया का सबसे सस्ता 3जी स्मार्टफोन कहा जा रहा है, उससे तीन विवाद जुड़ गए हैं। पहला- इसकी लॉन्चिंग में डिफेंस मिनिस्टर मनोहर पर्रिकर को जाना था, लेकिन वे नहीं पहुंचे। दूसरा- इंडियन सेल्युलर एसोसिएशन ने कहा है कि जिस फोन की रिटेल कॉस्ट 3500 से 4100 रुपए के बीच है, वह 251 रुपए में कैसे मिलेगा? तीसरा- इस फोन के लुक्स आईफाेन और पहले से मौजूद एडकॉम स्मार्टफाेन की तरह माने जा रहे हैं।

– 4 इंच एचडी डिस्प्ले, 1.3 गीगा हर्ट्ज प्रोसेसर और 1 जीबी रैम वाले 251 रुपए के इस फोन की लॉन्चिंग बुधवार को नोएडा में हुई।
– पर्रिकर इसकी लॉन्चिंग में नहीं आए। बीजेपी सांसद मुरली मनोहर जोशी इस इवेंट में शामिल हुए।
– मोबाइल इंडस्ट्री बॉडी इंडियन सेल्युलर एसोसिएशन (आईसीए) का कहना है कि टेलिकॉम मिनिस्टर रविशंकर प्रसाद को इस मामले की जांच करनी चाहिए।
– आईसीए का कहना है कि सब्सिडी पर सेल के बावजूद इस तरह के स्मार्टफोन की प्राइस 4100 रुपए से कम नहीं हो सकती।
– आईसीए ने इस सस्ते स्मार्टफोन के लॉन्चिंग इवेंट में सीनियर पॉलिटिकल और गवर्नमेंट लीडरशिप को मिले इनविटेशन और नेताओं की मौजूदगी पर भी सवाल उठाए हैं।
जून से मिलेगा फोन, बुकिंग शुरू
यह स्मार्टफोन नोएडा की रिंगिंग बेल्स ने लॉन्च किया है। 251 रुपए के इस स्मार्टफोन के लिए कंपनी की वेबसाइट से प्री-बुकिंग 18 फरवरी सुबह 6 बजे से शुरू हो गई जो 21 फरवरी शाम 8 बजे तक की जा सकती है। 30 जून से कंपनी इसकी शिपिंग शुरू कर देगी।
– हालांकि, गुरुवार सुबह बुकिंग शुरू होने के बाद यूजर्स ने कंपनी की वेबसाइटfreedom251.com के क्रैश होने और बुकिंग नहीं हो पाने की शिकायत की।
इंडियन सेल्युलर एसोसिएशन ने क्या कॉस्ट मैकेनिज्म बताया?
– आईसीए ने कहा कि इस तरह के प्रोडक्ट की बिल ऑफ मटीरियल (बीओएम) वैल्यू 40 डॉलर यानी 2,700 रुपए आती है। यह कॉस्ट तभी आती है, जब इसे सस्ती सप्लाई चेन से खरीदा जाए।
– आईसीए के नेशनल प्रेसिडेंट पंकज महिंद्रू ने टेलिकॉम मिनिस्टर को लिखे लेटर में कहा कि रिटेल सेल्स के दौरान प्रोडक्ट कॉस्ट में ड्यूटी, टैक्स, डिस्ट्रीब्यूशन और रिटेल मार्जिन भी जुड़ते हैं। जब इस स्मार्टफोन की रिटेल कॉस्ट 4,100 रुपए बैठती है, तो यह 251 रुपए में कैसे बिक सकता है?
– महिंद्रू ने कहा कि यदि ऐसे फोन को ई-कॉमर्स या किसी तरह की सब्सिडाइज्ड सेल पर बेचा जाता है, तो इसकी कीमत 52-55 डॉलर यानी 3,500-3,800 रुपए बैठती है।
– उन्होंने सवाल उठाया कि जब प्रोडक्ट पर सीधे कोई सब्सिडी नहीं मिली है, तो यह इतने कम रेट पर कैसे बिक सकता है?
– बता दें कि Samsung, Apple, Sony, Lava, Micromax, Karbonn, Motorola और HTC जैसी कंपनियां आईसीए की मेंबर हैं।
जवाब में रिंगिंग बेल्स ने क्या गणित बताया?
– रिंगिंग बेल्स के प्रेसिडेंट अशोक चड्ढा ने लॉन्चिंग इवेंट में कहा- “इस साल के आखिर तक हम फ्रीडम-251 स्मार्टफोन का हार्डवेयर भारत में बनाएंगे। बाद में इसे 100 पर्सेंट मेड इन इंडिया कर देंगे।”
– “हम इसके लिए नोएडा और उत्तराखंड में पायलट प्रोजेक्ट ला रहे हैं। इसकी कॉस्ट 500 करोड़ रुपए और टारगेट कैपिसिटी हर महीने 5 लाख यूनिट की होगी। ऐसे पांच मैन्युफैक्चरिंग सेंटर हम बनाएंगे। लेकिन शुरुआत में हम ढाई लाख ऑर्डर के बाद बुकिंग रोक देंगे।”
– “बिल ऑफ मटीरियल्स के हिसाब से इस स्मार्टफोन की कॉस्ट 2000 रुपए है। भारत में बनाकर हम इसमें से 400 रुपए बचा लेंगे।”
– “ऑनलाइन बेचकर हम इससे 400 रुपए और बचा लेंगे। अगर प्री-ऑर्डर पर नंबर बढ़ेगा तो हम 400 रुपए आैर सेव कर लेंगे।”
– “इसके बाद जब प्लैटफॉर्म बड़ा हो जाएगा तो हम ऐसे प्रोडक्ट्स हाईलाइट करेंगे, जो कस्टमर्स के लिए वैल्यूएबल होंगे।”
– “इससे हमारी सोर्स ऑफ इनकम बढ़ेगी। इसका फायदा हम कस्टमर्स तक पहुंचाएंगे और स्मार्टफोन की कॉस्ट को कंट्रोल करेंगे।”
– कंपनी का कहना है कि वह इस फोन के लिए कोई गवर्नमेंट सब्सिडी नहीं ले रही है, न ही प्रोजेक्ट में सरकार का कोई डिपार्टमेंट शामिल है।
आईफोन से कॉपी करने के दावे क्यों?
– हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, फ्रीडम 251 में ज्यादातर बिल्ट अप आइकॉन्स आईफाेन जैसे दिखते हैं।
– इसका वेब ब्राउजर ऐप एप्पल के सफारी ब्राउजर जैसा नजर आता है जो आईफोन, आईपैड और मैक में होता है।
– इसमें राउंड होम बटन वैसा ही है, जैसा आईफोन में होता है।
– मीडिया रिपोर्ट में यह भी दावा किया गया है कि फ्रीडम 251 दिल्ली की आईटी इम्पोर्टर कंपनी एडकॉम के एक हैंडसेट की तर्ज पर बना है। एडकॉम कंपनी का फ्रीडम 251 जैसा एक स्मार्टफोन कई ई-रिटेलर कंपनियों की वेबसाइट्स पर करीब 4000 रुपए में लिस्टेड है।
किसके लिए चैलेंज है यह फोन?
– रिंगिंग बेल्स का प्लान 500 रुपए से कम के और भी स्मार्टफोन मार्केट में उतारने का है। फि‍लहाल, मार्केट में मौजूद सबसे सस्ता स्मार्टफोन 1,500 रुपए के करीब है।
– पि‍छले साल डाटाविंड ने एलान कि‍या था कि‍ वह अनि‍ल अंबानी की रि‍लायंस कम्‍युनि‍केशन (आरकॉम) के साथ मि‍लकर दुनि‍या का सबसे सस्‍ता स्‍मार्टफोन 999 रुपए में लॉन्‍च करेगी। यह फोन अभी मार्केट में नहीं आया है।
– वहीं, इन्हें 4500 से 5000 रुपए के बीच आने वाले लेनोवो A2010 और कार्बन मैक वन टाइटेनियम के लिए भी चैलेंज माना जा रहा है।
– 251 रुपए वाले इस स्मार्टफाेन की स्क्रीन लेनेवाे (4.5 इंच) और कार्बन (4.7 इंच) से छोटी होगी, लेकिन 1.3 गीगा हर्ट्ज क्‍वाडकोर प्रोसेसर लगभग उतनी ही मजबूती देगा।
2,999 रुपए में 4-जी फोन लॉन्च कर चुकी है रिंगिंग बेल्स।
– हाल ही में रिंगिंग बेल्‍स ने 2,999 रुपए में 4-जी स्‍मार्टफोन को मार्केट में लॉन्च कि‍या था।
– इसके अलावा, मार्केट में कंपनी के दो फीचर फोन भी मौजूद हैं।
इस धोखे को पहचानिए।

You might also like More from author

1 Comment

  1. VIJAYCHOWK.COM/NEWS says

    Yesterday their website crashed…Today there was a income tax raid…at the company office in Noida..What will happen tommorow…? Let us wait and watch..

Leave A Reply

Your email address will not be published.