गौतमबुद्ध नगर में 1 जुलाई से शुरू होगी “डायल एफआईआर”, पीड़ितों को नही काटने पड़ेंगे थाने के चक्कर

ROHIT SHARMA / JITENDER PAL

0 590

गौतमबुद्ध नगर पुलिस 1 जुलाई से दो बहुत ही दिलचस्प योजनाएँ शुरू करने जा रही हैं। आपको बता दे कि एक है “डायल एफआईआर” जिसमें चैन / मोबाइल / पर्स / बैग स्नेचिंग, टू / थ्री / फोर व्हीलर थेफ्ट, हाउस / फैक्ट्री थेफ्ट्स, थेफ्ट्स ऑफ व्हीकल आदि की खुली खिड़कियों को तोड़कर जैसे स्ट्रीट क्राइम में एफआईआर दर्ज की जाएगी। ऐसे “अज्ञात” मामलों में 100% एफआईआर पंजीकरण होगा।



दूसरा, “अज्ञात” मामलों में साइबर अपराध के शिकार लोगों की सुविधा के लिए, ग्रामीण क्षेत्र के लिए थाना सूरजपुर और शहरी क्षेत्र के लिए थाना सेक्टर 24 की पहचान की गई है, जहां साइबर अपराधों के संबंध में आवेदन दिए जा सकते हैं। इन थानों पर एफआईआर दर्ज की जाएगी और कई टीमों द्वारा जांच की जाएगी।

दरअसल दोनों पहल 1 जुलाई, 2019 से लागू की जाएंगी। स्ट्रीट क्राइम और साइबर क्राइम के पीड़ितों को राहत देते हुए ऐसे मामलों में अपनी एफआईआर दर्ज करवाने के लिए लोगों को अलग-अलग जगहों पर नहीं जाना पड़ेगा।

पुलिस में आने वाले अधिकतम लोग ऐसे अपराधों के शिकार होते हैं। यह पुलिस को ऐसे अपराधों के “हॉट स्पॉट” को बेहतर तरीके से पहचानने में मदद करेगा, मोडस ऑपरेंडी / अपराधियों की बेहतर तरीके से पहचान करेगा और उन अपराधों को काम करेगा जो लंबे समय में अपराध को कम करेंगे।

वही इस मामले में एसएसपी वैभव कृष्ण ने प्रेस वार्ता करते हुए यह जानकारी दी है । साथ ही उन्होंने कहा कि पीड़ितों को राहत देने के लिए यह योजना शुरू की है । अब पीड़ितों को थाने में एफआईआर दर्ज कराने के लिए चक्कर नही काटने पड़ेंगे ।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.