25 हजार लीटर अवैध शराब के साथ पुलिस ने 17 लोगों को किया गिरफ्तार, 10 लाख नकद बरामद

Abhishek Sharma

0 232
Greater Noida (27/02/19) : ग्रेटर नोएडा के थाना बादलपुर क्षेत्र के छपरौला औद्योगिक क्षेत्र में स्थित एक कंपनी में छापा मारकर पुलिस ने शराब बनाने में इस्तेमाल की जाने वाली 25 हजार लीटर इथेनाल बरामद किया है। इस मामले पुलिस ने दस लोगों को गिरफ्तार किया है।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक वैभव कृष्ण ने बताया कि थाना बादलपुर पुलिस को शनिवार शाम को सूचना मिली थी कि छपरौला औद्योगिक क्षेत्र में स्थित एक कंपनी में भारी मात्रा में शराब बनाने में प्रयोग आने वाला केमिकल एथेनॉल स्टोर करके रखा गया है। उन्होंने बताया कि सूचना के आधार पर एक टीम बनाकर वहां पर छापेमारी की गयी और इस दौरान पुलिस को कंपनी में खड़े टैंकरों तथा ड्रमों से करीब 25 हजार लीटर एथलॉन केमिकल बरामद हुआ है।

पुलिस ने कंपनी के मुनीम अमन शर्मा, शानू गुप्ता, अनमोल गुप्ता, दिनेश शर्मा, अमरीश कुमार, विक्की रंजन, अमित, रमेश सहित कुल 17 लोगों को गिरफ्तार किया है। उन्होंने बताया कि पूछताछ के दौरान पुलिस को पता चला है कि यै लोग पंजाब और राजस्थान से एथेनॉल टैंकर में भर कर जनपद गौतमबुध नगर में लाते हैं, तथा यहां से उत्तर प्रदेश के आजमगढ़, बस्ती, बलिया, बनारस, शाहजहांपुर, इलाहाबाद, प्रतापगढ़ सहित विभिन्न जनपदों में सप्लाई करते हैं। इनके पास से फॉर्चूनर, हौंडा सिटी, बिक्री के 10 लाख रूपये, 4 मोबाइल, 2 फर्जी पैन कार्ड, 2 आधार कार्ड, एक फर्जी प्रेस कार्ड बरामद हुए हैं।



उन्होंने बताया कि पूछताछ के दौरान पुलिस को पता चला है कि ये लोग मिलावटी और जहरीली शराब बनाने के धंधे में संलिप्त हैं। उन्होंने यह भी बताया की पुलिस यह पता लगाने का प्रयास कर रही है कि सहारनपुर और कुशीनगर में हुई जहरीली शराब कांड से इस गैंग का संबंध तो नहीं है। उन्होंने बताया कि बरामद एथेनॉल की कीमत करीब एक करोड़ रूपया है। एसएसपी ने बताया कि पुलिस यह बात जानने का प्रयास कर रही है कि पंजाब और राजस्थान के किन कंपनियों से यह पदार्थ अवैध रूप से नोएडा लाया जाता था।
उन्होंने बताया कि उन कंपनियों के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी। पुलिस को पूछताछ के दौरान यह जानकारी मिली है कि इस गिरोह के लोग आगामी लोकसभा चुनाव में भारी मात्रा में नकली शराब बनाकर सप्लाई करने की फिराक में थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.