ग्रेटर नोएडा : प्रदुषण फ़ैलाने पर बिल्डरों पर लगाया 97 लाख जुर्माना, अब तक की सबसे बड़ी कार्यवाही 

ABHISHEK SHARMA

0 192

ग्रेटर नोएडा शहर में प्रदूषण का स्तर बेहद खतरनाक श्रेणी में बना हुआ है। पिछले 2 सप्ताह से शहर में सांस लेना दूभर हो गया है। प्रदूषण फैलाने वालों के खिलाफ ग्रेटर नोएडा विकास प्राधिकरण और प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की टीम ने 97 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है। इसमें 9 बिल्डरों की निर्माणाधीन साइट शामिल हैं।

बताया गया है कि इन बिल्डर साइटों पर ग्रीन कवर नहीं लगाया गया था। एन्टी स्मॉग गन नहीं लगाई गई हैं। साइट पर धूल उड़ती मिली है। अधिकारियों ने सभी को नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल के नियमों के अनुसार काम करने के लिए कहा है। अगर खामी मिली तो फिर कार्रवाई की जाएगी।
आपको बता दें कि ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी नरेन्द्र भूषण ने सोमवार को अपनी टीम के साथ शहर का दौरा किया। उनके साथ एसीईओ दीप चन्द्र, जीएम परियोजना समाकान्त श्रीवास्तव, जीएम परियोजना पीके कौशिक, उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियन्त्रण बोर्ड की क्षेत्रीय अधिकारी डा.अर्चना द्विवेदी मौजूद रहीं।
सीईओ ने शहर में बढ़ते प्रदूषण को रोकने के लिए दिशा-निर्देश दिए। मुख्य कार्यपालक अधिकारी इन तमाम अफसरों के साथ बिल्डरों की निर्माणाधीन साइटों पर पहुंचे। हालात का जायजा लिया। देखा कि नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल के आदेशों का पालन किया जा रहा है या नहीं किया जा रहा है। ग्रेटर नोएडा और ग्रेटर नोएडा वेस्ट में 9 बिल्डरों की साइट पर एनजीटी के नियमों का उल्लंघन पाया गया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.