वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण का बयान , देश में तेजी से सुधर रही अर्थव्यवस्था, जीएसटी कलेक्शन बढ़ा 10 फीसदी

ROHIT SHARMA

0 177

नई दिल्ली :– कोरोना वायरस महामारी से देश की अर्थव्यवस्था को हुए नुकसान को लेकर वित्त मंत्री सीतारमण ने आज दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस की | इस दौरान उन्होंने बताया है कि अब देश की अर्थव्यवस्था में तेजी से सुधार हो रहा है |

 

उन्होंने कहा की देश में इस बार जीएसटी का कलेक्शन दस फीसदी बढ़ा है , साथ ही वित्त मंत्री ने बताया कि देश में अब निवेश में भी बढोत्तरी हो रही है | वित्त मंत्री सीतारमण ने कहा, ‘’मूडीज ने देश की जीडीपी में सुधार की बात कही है | अब मूडीज ने देश की जीडीपी -8.9 फीसदी तक रहने की बात की है.’’ उन्होंने बताया, ‘’अब विदेश मुद्रा में भी इजाफा देखने को मिल रहा है |

इस दौरान उन्होंने बताया है कि अर्थव्यवस्था की हालत में बहुत सुधार हुआ है , कोरोना वायरस के सक्रिय मामले 10 लाख से घटकर 4.89 लाख हो गए हैं. कोरोना वायरस की मृत्य दर भी घटकर 1.47% हो गई है |

 

निर्मला सीतारमण ने आगे कहा, ‘’आरबीआई ने अपनी रिपोर्ट में तीसरी तिमाही में सकारात्मक ग्रोथ की भविष्यवाणी की है, पहले उम्मीद थी कि ये ग्रोथ चौथी तिमाही में होगी | अब देश के बैंकों की क्रेडिट ग्रोथ भी बढ़ रही है | वित्त मंत्री ने बताया, ‘’आत्मनिर्भर भारत के तहत सरकार ने निश्चय किया था कि देश में धन और अन्न की कोई कमी न रहे. इसी संबंध में वित्त मंत्री सीतारण ने घोषणा की थी कि ‘एक देश एक बाजार’ की तर्ज पर ‘एक देश एक राशन कार्ड’ की दिशा में आगे बढ़ेंगे |

 

सरकार ने पहले ही राज्यो से ‘एक देश एक राशन कार्ड’ को लागू करने को कहा था. अब 18 राज्यों में इस सुविधा को लागू कर दिया गया है | आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना के तहत 1.59 लाख संस्थाओं को 8300 करोड़ रुपये का लाभ दिया गया. इससे 1 करोड़ 21 लाख से ज्यादा लोग लाभान्वित हुए हैं | इसके तहत जो कंपनियां नए लोगों को रोजगार दे रही हैं यानी जो पहले से ईपीएफओ में कवर नहीं थें उन्हें इसका फायदा मिलेगा |

 

इसका फायदा मंथली 15,000 रुपए से कम सैलरी वालों या 1 मार्च 2020 से लेकर 31 सितंबर 2020 के बीच नौकरी गंवाने वाले लोगों को मिलेगा.  यह स्कीम 1 अक्टूबर 2020 से लागू है | इमरजेंसी क्रेडिट लाइन गारंटी स्कीम (ईसीएलजीएस) स्कीम की डेडलाइन बढ़ाकर 31 मार्च 2021 कर दी गई है | कोरोना संकट के बीच केंद्र सरकार ने एमएसएमई आसान शर्त पर कर्ज उपलब्ध कराने के लिए इस स्कीम को लॉन्च किया था |

इमरजेंसी क्रेडिट लाइन स्कीम (ईसीजीएलएस) के तहत 61 लाख कर्जदारों को 2 लाख करोड़ से ज्यादा का लोन आवंटित कर दिया गया है. इसमें से 1.52 लाख करोड़ रुपये वितरित कर दिए गए हैं |  निर्मला सीतारमण ने बताया कि बैंकों ने 157.44 लाख किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड जारी किए गए हैं. वहीं, प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा के तहत 1681 करोड़ रुपये आवंटित किए हैं.  नाबार्ड के जरिए 25 हजार करोड़ रुपये की पूंजी आवंटित की गई है |

28 राज्य और केंद्रशासित प्रदेश के वन नेशन, वन राशन कार्ड योजना से जुड़ने की वजह से प्रवासी मजदूरों को हो रहा फायदा. पीएम स्वनिधि योजना के तहत 1373.33 करोड़ रुपये के 13.78 लोन आवंटित किए गए हैं | निर्मला सीतारमण ने बताया कि आरबीआई ने तीसरी तिमाही में इकॉनमी के पॉजिटिव ग्रोथ का अनुमान जताया है. शेयर बाजार और मार्केट कैप की बढ़त हमारे प्रयासों का नतीजा है |

Leave A Reply

Your email address will not be published.