KanhaiyaKumar :Let me make it clear that I’m not a politician. I am only a student, Afzal Guru is not my icon, Rohith Vemula is: Kanhaiya Kumar.

0 126

Video 1 [youtube //www.youtube.com/watch?v=XiI38W74rFw&w=420&h=315]

video 2 [youtube //www.youtube.com/watch?v=Tm8TDpj0kVg&w=420&h=315]

Video 3 [youtube //www.youtube.com/watch?v=Tm8TDpj0kVg&w=420&h=315]

Video 4 [youtube //www.youtube.com/watch?v=CHWQmm00LJU&w=420&h=315]

Video 5 [youtube //www.youtube.com/watch?v=0jNHT8gNLPU&w=420&h=315]

नई दिल्ली:जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने प्रेस कांफ्रेस करते हुए कहा ‘मैं नेता नहीं विद्यार्थी हूं और मैं आगे चलकर नेता नहीं बल्कि टीचर बनना चाहता हूं’ कन्हैया ने कहा कि मुझे जेएनयू के छात्रों ने प्रतिनिधित्व चुना है। ऐसे में 9 फरवरी को जेएनयू में जो कुछ हुआ हम उसकी कड़ी निंदा करते हैं। कन्हैया ने कहा कि कृपया जेएनयू के छात्रों को आतंकवादी न समझे। जेएनयू में इस तरह का यह पहला मामला नहीं है। मीडिया के माध्य म से आंदोलन में शरीक होने वालों को धन्य वाद। मुझे सहयोग देने वाले हर आदमी का शुक्रिया।’ उन्होंने कहा कि ‘आपके टैक्सय से हम पढ़ते हैं, जेएनयू वाले कभी देशद्रोही नहीं हो सकते। सीमा पर जवान, किसान और रोहित की शहादत बेकार नहीं जाएगी। लोगों को बांटने की तुम्हाहरी कोशिश सफल नहीं होगी। JNUSU अध्यरक्ष, अफजल गुरु मेरे लिए आइकन नहीं है, मेरा आदर्श रोहित वेमुला है। मैं विद्यार्थी हूं और पढ़ाई मेरा पहला काम है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.