अरविन्द केजरीवाल ने मोदी सरकार पर लगाया आरोप , कहा अंबानी – अडानी को फायदा पहुंचाने के लिए ला रहे है बिजली संशोधन एक्ट

ROHIT SHARMA / LOKESH GOSWAMI

0 249

दिल्ली :— दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने प्रेस वार्ता करते हुए मोदी पर जमकर निशाना साधा | उन्होंने कहा की मोदी सरकार लोकसभा चुनाव से पहले बिजली संशोधन एक्ट लेकर आई है यानी बिजली कानून में बदलाव कर रहे हैं , ये बेहद खतरनाक बदलाव है | साथ ही अरविन्द केजरीवाल ने मोदी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा की कुछ चुनिंदा कंपनियों को फायदा पहुंचाने के लिए ऐसा किया गया | साथ ही उनका कहना है की बिजली संशोधन एक्ट के बाद बिजली इतनी महंगी हो जाएगी कि मिडिल क्लास के लिए जीना मुश्किल हो जाएगा , गरीब की बात छोड़ दें |

मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि इस बिल में लिखा है क्रॉस सब्सिडी खत्म कर देंगे | डोमेस्टिक कैटेगरी में कम रेट होते हैं, इंडस्ट्रियल में ज़्यादा लेकिन इस बिल में सब बराबर हो जाएंगे , कोई स्लैब नहीं रहेगा और बिजली का एक रेट हो जाएगा | उन्होंने कहा कि किसानों, डोमेस्टिक का रेट कम होता है लेकिन इंडस्ट्री का रेट ज़्यादा रखते लेकिन अगर सारा बराबर हो गया तो बहुत बुरा हाल हो जाएगा | कानून में लिखा है कि अगर राज्य सरकार चाहे तो DBT के सीधा सब्सिडी दे सकती हैय क्रॉस सब्सिडी खत्म करने बोझ राज्य सरकारें नहीं उठा पाएगी.

वही उन्होंने कहा की दिल्ली का उदाहरण लें तो यहां दिल्ली में बिजली की कॉस्ट 7.40 है | 200 से नीचे 1 रुपये है अभी, जबकि 200-400 पर 2.5 रुपये है, लेकिन अब सबकी बिजली रेट 7.40 प्रति यूनिट हो जाएगी | अगर इस कानून में हम सब्सिडी भी रखें तो भी बिजली महंगी हो जाएगी , अगर इसमें सट्टा बाजार हावी हुआ तो 10 रुपये यूनिट बिजली हो जाएगी , किसानों का बुरा हाल हो जाएगा | ये पूरा का पूरा कानून राज्यों से सारी ताक़त-अधिकार छीन रहा है , हमारा कोई दखल नहीं रहेगा | अब रेगुलेटरी कमीशन में ज़्यादातर केंद्र सरकार के लोग होंगे , अब केंद्र सरकार हर साल टैरिफ तय करेगी |

केजरीवाल ने कहा कि इस कानून में लिखा है बिजली की सारी कॉस्ट जनता भरेगी , जनरेशन, डिस्ट्रीब्यूशन, स्पेकुलेशन आदि सबकी कीमत जनता चुकायेगी | अब बिजली कंपनी को पूरे देश मे केवल केंद्र सरकार खुश करना है सब काम हो जाएगा | अब ज़रा सी गलती पर पुलिस भी आपको गिरफ़्तार कर सकती है |

अरविन्द केजरीवाल ने मोदी पर निशाना साधते हुए कहा की पीएम तो पोलिटिकल आदमी हैं , उनकी जितनी पॉलिटिक्स कोई नहीं समझता | दिसंबर में ये बिल आएगा, शीत सत्र में पास करवाएंगे |

साथ ही इस मामले में अरविन्द केजरीवाल ने मोदी सरकार से जवाब माँगा की चुनाव से तीन महीने पहले ऐसा बिल क्यों? कहीं ऐसा तो नहीं कि मोदी जी को हार का डर है इसलिए अपने दोस्तों को फायदा पहुंचाने में लगे हैं |

वही इस एक्ट को लेकर अरविन्द केजरीवाल ने कहा की सारे सीएम को पत्र लिखूंगा , नॉन बीजेपी सीएम से खुद मिलूंगा और किसी भी कीमत पर पास होने से रोकूंगा| उन्होंने कहा कि संशोधन एक्ट के बाद दिल्ली का सब्सिडी बिल बिल 1800 करोड़ से बढ़कर सालाना 10,000 हज़ार करोड़ हो जाएगा | अनिल अंबानी और अडानी की कंपनियों को फायदा पहुंचाने के लिए किया जा रहा है |

Leave A Reply

Your email address will not be published.