मांगे नही मानी तो इस्लाम धर्म कबूल करेंगे नोएडा प्राधिकरण के 5000 कर्मचारी

ABHISHEK SHARMA

0 259

NOIDA (15/09/20) : उत्तर प्रदेश के शो विंडो कहे जाने वाले नोएडा में एक बेहद अजीबोगरीब मामला सामने आया है। नोएडा प्राधिकरण के सफाई कर्मचारियों ने मांगे पूरी नहीं होने पर धर्म परिवर्तन करने की चेतावनी दी है। पिछले कई दिनों से नोएडा प्राधिकरण के लगभग 5000 सफाई कर्मचारी विभिन्न मांगों को लेकर धरने पर हैं।

आपको बता दें कि प्राधिकरण के कर्मचारियों व अखिल भारतीय सफाई मजदूर कांग्रेस के तत्वाधान में 2 सितंबर से यह धरना-प्रदर्शन लगातार जारी है।

बाल्मीकि समाज के सफाई कर्मचारियों का कहना है कि सफाई के नाम पर हो रहा उनका शोषण बंद किया जाना चाहिए। उनकी मांगे पूरी नहीं की गयी तो वह आगामी 2 अक्टूबर को धर्म परिवर्तन कर इस्लाम कबूल करेंगे।

अखिल भारतीय सफाई मजदूर कांग्रेस के नोएडा शाखा अध्यक्ष बबलू पारचा ने बताया कि नोएडा प्राधिकरण में करीब 5000 सफाई कर्मचारी पिछले 30 वर्षों से कार्यरत हैं। नोएडा को ऊंचाइयों पर ले जाने में सफाई कर्मचारियों का बड़ा योगदान रहा है।

उन्होंने कहा कि एक तरफ देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बाल्मीकि समाज का सम्मान करते हैं। वही नोएडा में बाल्मीकि समाज के लोगों का पूरी तरह शोषण हो रहा है। नोएडा प्राधिकरण में कार्यरत सफाई कर्मियों की मांगें पूरी नहीं हो रही है और प्राधिकरण के अधिकारी तरह तरह से उनका शोषण कर रहे हैं।

सफाई कर्मचारी पिछले काफी समय से अपनी मांगों को पूरा कराने के लिए आवाज उठा रहे हैं, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी ने सफाई कर्मियों पर कोहराम कर रखा है।

कांग्रेस के नेतृत्व में प्रियंका गांधी को एक ज्ञापन भेजा गया है, जिसके तहत अगर 2 अक्टूबर तक सफाई कर्मचारियों की मांगे पूरी नहीं होती हैं, तो परिवार समेत 5000 कर्मचारी धर्म परिवर्तन कर इस्लाम कबूल कर लेंगे। 5000 सफाई कर्मचारियों के परिवार को लगाकर लगभग यह संख्या 25000 होगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.