नोएडा : कोरोना वायरस को लेकर हुई हाई लेवल मीटिंग, इससे निपटने के लिए बनेगी यह समिति 

Abhishek Sharma / Harinder Singh

1 328

देश में कोरोनावायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए केंद्र एवं राज्य सरकारें इसको रोकने की हरसंभव कोशिश में जुटी हुई हैं। वहीं नोएडा में कोरोना वायरस के आज दो मरीजों की पुष्टि होने के बाद हड़कंप मचा हुआ है। जिसके बाद गौतम बुध नगर के सांसद डॉ महेश शर्मा ने सभी  आला अधिकारियों की आपात बैठक बुलाई।

बैठक में कोरोना वायरस से बचाव के बारे में चर्चा की गई। इस दौरान सांसद डॉ महेश शर्मा के अलावा नोएडा विधायक पंकज सिंह, जिलाधिकारी बीएन सिंह, पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह,  मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ अनुराग भार्गव, नोएडा प्राधिकरण की सीईओ रितु माहेश्वरी, ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण, यमुना प्राधिकरण के सीईओ डॉ. अरुणवीर सिंह एवं तमाम आला अधिकारी इस बैठक में मौजूद रहे।

डॉ महेश शर्मा ने बताया कि आज देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी मंत्रियों की एक बैठक बुलाई। जिसमें वर्तमान स्थिति पर चर्चा की गई। डॉ महेश शर्मा ने बताया कि डेढ़ घंटे चली इस बैठक में पीएम मोदी ने कहा कि इस वायरस को रोकने में हम अब तक कामयाब हुए हैं। 135 करोड़ की जनसंख्या में अभी आंकड़ा 128 पहुंचा है।

सांसद ने बताया कि नोएडा में भी आज कोरोना वायरस के दो संक्रमित व्यक्ति पाए गए हैं। गौतम बुध नगर में कोरोना वायरस से लड़ने की सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं लेकिन कुछ तैयारियां करनी बाकी हैं। सांसद ने कहा कि जैसा कि सभी को मालूम है कि नोएडा उत्तर प्रदेश का शो विंडो है। यहां देश विदेश के लोग आकर रह रहे हैं एवं काम कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि यहां आ 5 तरह के लोग रह रहे हैं। झुग्गी में रहने वाले, फैक्ट्री में काम करने वाले,हाईराइज फ्लैट में रहने वाले, गांव में रहने वाले एवं सेक्टर वासी, इन सब लोगों को ध्यान में रखकर यहां कोरोना वायरस से लड़ने की तैयारियां की जा रही हैं। बैठक में यह फैसला लिया गया कि कोरोना से लड़ने के लिए एक समिति बनाई जाएगी। जिसमें जिले के पांचों डिपार्टमेंट के एक एक अधिकारी की रहेंगे।

वहीं, जिलाधिकारी उसके नोडल अफसर रहेंगे। जिले के जनप्रतिनिधि भी समिति के सदस्य रहेंगे। वहीं सामाजिक संस्था के लोग भी इससे जोड़े जाएंगे। समिति कोरोना वायरस को लेकर हर दूसरे दिन बैठक करेगी और चर्चा की जाएगी कि कितनी तैयारी हो चुकी है एवं कितनी तैयारी करने की जरूरत है।

सांसद ने कहा कि नोएडा में आज हाईराइज सोसायटियों में दो कोरोनावायरस के संक्रमित लोग पाए गए हैं। हाई राइज सोसायटियों में लिफ्ट एक बड़ी समस्या है। जिसका सभी लोग प्रयोग करते हैं। इसके लिए भी कदम उठाया जाएगा। लिफ्ट के बाहर सैनिटाइजर व हाथ धोने के लिए साबुन एवं पानी की व्यवस्था की जाएगी।

सांसद ने कहा कि ऐसे में जब कोरोना वायरस अपने पैर पसार रहा है तो सैनिटाइजर और मास्क की कालाबाजारी हो रही है। इस पर प्रशासन को ध्यान देना होगा कि किसी भी प्रकार की कालाबाजारी न होने पाए। डॉ महेश शर्मा ने कहा कि इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के अधिकारियों की भी एक बैठक की गई थी। जिसमें यह फैसला लिया गया कि प्राइवेट एवं सरकारी अस्पताल मिलकर कोरोना वायरस से लड़ेंगे।

उनका कहना है कि जिले में कोरोनावायरस से लड़ने की पूरी तैयारियां हैं। सेक्टर 39 जिला अस्पताल में 400 बेड का क्वॉरेंटाइन सेंटर बनाया गया है। वहीं 72 स्टाफ क्वार्टर भी कोरोना वायरस के लिए तैयार किए जा चुके हैं। वहीं ग्रेटर नोएडा के जिम्स में भी क्वॉरेंटाइन केंद्र बनाया गया है। नोएडा में विदेश यात्रा करके आने वाले सभी लोगों को इसमें 14 दिन की निगरानी में रखा जाएगा और जांच के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी

वहीं डॉ महेश शर्मा ने बताया कि प्रधानमंत्री ने आज दिल्ली में हुई बैठक में मीडिया का विशेष आभार जताया है। पीएम ने कहा कि मीडिया ने कोरोना वायरस को सकारात्मकता से लोगों को समझाया

1 Comment
  1. Gaurav Kumar says

    Great

Leave A Reply

Your email address will not be published.