नोएडा : गर्भवती महिला की मौत मामले में ESI के डायरेक्टर पर गिरी गाज

Abhishek Sharma

0 115

नोएडा से सटे खोड़ा के आजाद विहार निवासी गर्भवती की मौत के मामले में सिस्टम किस कदर गैर जिम्मेदार रहा। इसकी पोल जिलाधिकारी की ओर से कराई जांच में खुलकर सामने आई है। जिसके बाद आज उत्तर प्रदेश शासन ने बडी कार्रवाई करते हुए ईएसआई के निदेशक का तबादला कर दिया है। इस मामले में ईएसआई डायरेक्टर डॉक्टर अशोक सिंघल को हटा दिया गया है।

आपको बता दें कि डीएम की जांच में जिला अस्पताल की सीएमएस, ईएसआई के निदेशक व स्टाफ, जिम्स का स्टाफ और अन्य पांच निजी अस्पताल की लापरवाही मिली है। जिलाधिकारी ने सभी को जांच रिपोर्ट में दोषी मानते हुए कार्रवाई की संस्तुति की है। निजी अस्पतालों को कारण बताओ नोटिस जारी कर जवाब मांगा गया है।

जिसके बाद आज उत्तर प्रदेश शासन ने बडी कार्रवाई करते हुए ईएसआई के निदेशक का तबादला कर दिया है। इस मामले में ईएसआई डायरेक्टर डॉक्टर अशोक सिंघल को हटा दिया गया है।

ईएसआई डायरेक्टर को डायरेक्टरेट मेडिकल दिल्ली से अटैच कर दिया गया और उनकी जगह ईएसआई हॉस्पिटल में डिप्टी मेडिकल सुपरिंटेंडेंट डॉक्टर बलराज भंडार को डायरेक्टर ईएसआई के पद पर तैनात किया गया है।

आपको बता दें कि शुक्रवार सुबह 6 बजे खोड़ा निवासी 8 माह की गर्भवती महिला नीलम को परिजन तबीयत बिगड़ने पर ईएसआई, जिला अस्पताल, शिवालिक, जेपी, फोर्टिस, शारदा, जिम्स, गाजियाबाद के एक निजी अस्पताल ले गए।

आरोप है कि सभी जगह इलाज न मिलने पर रात को ही नीलम और गर्भस्थ शिशु ने दम तोड़ दिया। इसके बाद जिलाधिकारी ने एडीएम वित्त मुनींद्र नाथ उपाध्याय और सीएमओ डॉ. दीपक ओहरी को जांच सौंप दी। जांच टीम ने दो दिन तक विभिन्न अस्पतालों में दस्तावेज जुटाए और कर्मियों के बयान दर्ज किए।

Leave A Reply

Your email address will not be published.