नोएडा के व्यापारियों की बजट पर राय : गहराता नजर आया असंतोष, कईयों ने बताया निराशाजनक !

1,199

PHOTO.VIDEO.STORY- JITENDER PAL-TEN NEWS (01/02/2018)

नोएडा : जिस आम बजट की काफी दिनों से पूरे देश के अंदर चर्चाओं का बाजार गर्म था और साथ ही आम बजट को लेकर काफी अटकलें लगाई जा रही थी । आम बजट के इस पिटारे से किसको क्या क्या मिलेगा । और पूरे देश के हर तबके को कुछ आशा थी कि इस पिटारे से उनके हिस्से में कुछ ना कुछ जरूर मिलेगा। आज आखिर कार आम बजट पेश हो गया । जिस आम बजट को लेकर अटकलों का बाजार काफी दिनों से गर्म था बजट के आते ही अटकलों का बाजार भी ठंडा हो गया। लोगो को काफी उम्मीद थी कि मोदी सरकार जाते जाते हमारे हित में काफी कुछ सोचकर जाएगी । लेकिन हुआ इसका उल्टा ,

Tennews की टीम ने आम बजट को लेकर लोगो से प्रतिकिर्या जानने की कोशिश की इस आम वजट से क्या क्या उम्मीदे थी , बात करते है नोएडा सेक्टर 18 मार्किट एससोसिसन के अध्यक्ष एसके जैन ने बताया कि इस आम बजट से केवल मोदी सरकार ने लोगो को एक बार फिर गुमराह किया है । इस बजट के जरिये लोगो को लॉलीपॉप देने की कोशिश की है इस बजट में ऐसा कुछ भी नही है इसे हम अच्छा बता सके । बजट में व्यापारियों के लिए कुछ भी नही। ये बड़ा दुर्भाग्य है जो व्यापारी वर्ग देश के सहयोग कर देकर करता है उस के लिए सरकार ने कुछ भी नही सोचा है । जिस तरह से कस्टम ड्यूटी में एक्सपोर्ट व इम्पोर्ट में छूट मिलनी चाहिए थी । वो हमे बजट में नही मिली , व्यापारी वर्ग नोटबन्दी व जीएसटी से काफी परेशान था , और व्यापार भी काफी घाटे से चल रहा था । व्यापारियों को उम्मीद थी इस बजट में व्यापारियों के हित मे कुछ प्रवाधान सरकार निकालेगी । लेकिन निराशा ही हाथ लगी ।जूलरी क्षेत्र में भी ऐसा कुछ भी सरकार ने बजट में नही किया है । इस देश की अर्थव्यवस्था में जो सहायक है वो मिडिल क्लास है , मिडिल क्लास को सुविधा देने की बजाय उन पर टैक्स का बोझ लाद दिया है ये शरासर गलत है । ये आम बजट आम लोगो के नही था ये केवल कोपरेटे वर्ग के लोगो के था । इस आम बजट से सेक्टर 18 की मार्किट में जूलरी व्यापारियों में काफी निराशा हाथ लगी है । अतुल मेहरा जूलरी व्यापारी ने बताया कि हमे बजट से काफी उम्मीद थी गोल्ड के क्षेत्र में काफी कुछ मिलेगा ,परंतु ऐसा कुछ भी नही हुआ । अगर सरकार इस बजट में इम्पोर्ट ड्यूटी में थोड़ा कट भी कर देते , गोल्ड में गिरावट होती ,तो व्यापार में थोड़ा सुधार हो जाता है इसमे कोई दोराय नही है कि मोदी सरकार अच्छा कार्य कर रही है साथ ही सरकार निम्वर्गीय लोगो के हित काम कर रही है । लेकिन एक जूलरी व्यापारियों के हित मे भी जरूर सोचे । टैक्स एक्सपर्ट अभिनव कालरा ने बताया कि ये बजट केवल सपनो का बजट ही कहेंगे , क्योकि इस बजट से मिडिल क्लास पर दोहरी मार पड़ी है । जहाँ लोगो को उम्मीद थी कि टैक्स में कुछ बेनिफिट मिलेगा । नोटबन्दी के बाद 6% टैक्स बड़ा है तो लोगो उम्मीद थी कुछ बदलाव होगा। वित्त मंत्री ने करदाताओं की प्रशंसा जरूर की है लेकिन रिवार्ड कुछ नही दिया । जिस तरह मोदी सरकार ने 2022 तक गरीब तबके के लोगो को 37 लाख मकान देने की बात कही है । जो कि 51 लाख करोड़ का बजट है , देखते है मोदी सरकार गरीबो से किया वादा कैसे पूरा करती है । ये आम हमारी उम्मीदे पर खड़ा नही उतरा है । सरकार के पिछले 4 चार के बजट में कुछ लुभावने वाले वादे किए थे जिनकी वजह से मोदी सरकार ने कई राज्यों में अच्छा प्रदर्शन किया था । लेकिन इस बार सरकार के आम बजट से काफी निराशा हुई है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

WP Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com