नोएडा में निजी अस्पताल की लापरवाही से गई बुजुर्ग की जान

ABHISHEK SHARMA

0 103

नोएडा सेक्टर 34 स्थित एक निजी अस्पताल पर बुजुर्ग मरीज के इलाज में लापरवाही बरतने के आरोप लगे हैं। अस्पताल के डॉक्टरों ने मरीज को ऑक्सीजन लगाए बिना ही एम्बुलेंस के जरिए जिला अस्पताल रेफर कर दिया।

जिला अस्पताल पहुंचने से पहले ही बुजुर्ग की मौत हो गई। नाराज परिजनों ने एम्बुलेंस चालक को पकड़कर मामले की शिकायत पुलिस से की है। साथ ही बुजुर्ग की मौत पर जिला अस्पताल में हंगामा किया है।

बरौला निवासी संगराम चौहान का आरोप है 70 वर्षीय बुजुर्ग जिन्हें लोग बाबा नाम से पहचानते है सेक्टर 53 के गिझौर गांव में अकेले रहते थे। आज सुबह करीब 9 बजे घर के बाहर अचानक चक्कर खाकर गिर गए। आसपास रहने वाले लोग उन्हें सेक्टर 34 में बने एक निजी अस्पताल ले गए।

जहां डॉक्टर ने पहले इलाज में लाखों रुपये का खर्च बताया। रुपये जमा करने में असमर्थता जताने पर मरीज को सरकारी अस्पताल रेफर करने की बात कही जाने लगी। इसके लिए एम्बुलेंस भी नहीं दी गई।

बाद में उनके साथ अस्पताल गए लोग ने बाद बुजुर्ग को सरकारी अस्पताल ले जाने की इच्छा जताई। इसपर अस्पताल प्रबंधन की ओर से मरीज को अस्पताल पहुंचाने के लिए 1000 हजार रुपये मांगे गए। बाद में 800 रुपये देने पर मरीज को सरकारी अस्पताल ले जाने पर बात बनी।

आरोप है मरीज को एम्बुलेंस में ऑक्सीजन सिलेंडर लगाने की बाद कही गई थी, लेकिन रेफर करते समय ऐसा नहीं किया गया। इससे जिला अस्पताल पहुंचने से पहले ही बुजुर्ग की मौत हो गई।

एम्बुलेंस कर्मी बाद में आनन फानन में शव को जिला अस्पताल के बाहर ही छोड़कर फरार होने लगा, लेकिन बुजुर्ग के साथ अस्पताल गए लोग ने एम्बुलेंस चालक व अस्पताल के एक स्वास्थ्य कर्मी को पकड़ लिया और मामले की शिकायत पुलिस से की है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.